BIG Breaking Kanpur : बैरक की छत गिरने से पुलिसकर्मी की मौत

by News Desk
86 views

कानपुर। पुलिस लाइन में सोमवार देर रात अचानक बैरक गिरने से अफरा तफरी मच गई। हादसे में कई पुलिस वाले दब गए। वही घटना के बाद आनन फानन में रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया और मलबे में दबे हुए सिपाहियों को निकाला गया। घायल सिपाहियों को इलाज के लिए रिजेंसी हॉस्पिटल भेजा गया, जहाँ इलाज के दौरान अरविंद नाम के एक सिपाही की मौत हो गई है।

पुलिस लाइन में बनी बैरक उस समय गिरी जब पुलिस कर्मी अपनी ड्यूटी कर वापस बैरक में आकर आराम कर रहे थे। तभी अचानक बैरक की छत भरभरा कर गिर गई। इस दौरान वहां चीख पुकार मच गई। वही बैरक गिरने से चारो तरफ धुंध ही धुंध छा गयी और तकरीबन पाँच मिनट के बाद जब देखा गया तो लगभग बीस फिट की स्लेप गिर चुकी थी। वही उसके नीचे कई पुलिस कर्मी दब चुके थे। सूचना मिलने के बाद आलाधिकारी मौके पर पहुँचे और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कराया। जहां इलाज के दौरान अरविंद नाम के सिपाही की मौत हो गई और आधा दर्जन सिपाही घायल हो गए, जिन्हें रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस पूरे मामले में डीआईजी प्रीतिंदर सिंह का कहना है कि घायल सिपाहियों को इलाज के लिए रिजेंसी अस्पताल भेजा गया है, जहाँ उनका इलाज किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बैरिक जर्जर हो चुकी था जिससे यह हादसा हुआ है। मृतक सिपाही अरविंद के साथ पूरी पुलिस फोर्स खड़ी हुई है। उनकी हर तरह की संभव मदद की जाएगी और पूरे सम्मान के साथ अरविंद की आखिरी विदाई की जाएगी। साथ ही साथ पुलिस लाइन के अंदर बनी हर बिल्ड़िंग की पी डब्लू डी के अधिकारियों को बुला कर जांच कराई जाएगी और जो भी बिल्ड़िंग है उनकी मरम्मत का कार्य कराया जाएगा।

मगर कही न कही ये भी सवाल खड़ा होता दिखाई दे रहा है कि आखिर पुलिस लाइन के अंदर बैरक इतनी जर्जर हो चुकी थी और किसी भी आला अधिकारी की नजर नही पड़ी और पुलिस लाइन में रहने वाले सिपाहियों की जिंदगी से खिलवाड़ किया जा रहा है ???

  • कौस्तुभ शंकर मिश्रा

Related Posts