खरगोन। जिले के थाना भगवानपुरा क्षेत्र में सोमवार को थाना प्रभारी भगवानपुरा उनि विश्वेश्वर करील को देहात भ्रमण के ग्राम चोखण्ड पहुँचा तो मुखबिर से सुचना मिली कि, ग्राम कान्यापानी तरफ से एक व्यक्ति एक सफेद रंग कि केन मे स्प्रीट(इस्त्रा) भरकर ला रहा है । उक्त सूचना पर थाना प्रभारी भगवानपुरा विश्वेश्वर करील के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया ।

मुकबीर सूचना पर वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया । मुखबिर की सूचना पर विश्वास कर मुखबिर के बताये स्थान पर ग्राम कान्यापानी रोड पहुँचा । जहॉ पर पेड कि आड से देखा तो एक व्यक्ति मुखबीर के बताये हुलिये का हाथ में सफेद रंग की केन लेकर आते हुए दिखाई दिया । जिसे पुलिस टीम द्वारा घेराबंदी कर पकडा । पकड में आये व्यक्ति से नाम पता पुछने पर उसने अपना नाम सुनिल पिता कालुराम सोलकी जाति बारेला उम्र 22साल निवासी चोखण्ड गोविन्दा फाल्या का होना बताया । उसके पास प्लास्टिक सफेद रंग कि केन को चेक करते तेज गंध बिना रंग स्प्रीट शराब जैसा तरल पदार्थ मिला,जिसको पुलिस टीम के सदस्यों द्वारा सुंघाया व कपड़े का टुकड़ा भीगा कर जलाया जिसमें नीले रंग की लोह भपके के साथ व चखने पर अप्रिय स्वाद होने से घबराहट होने तथा जी मचलने से केन में भरे द्रव्य की पहचान मानव उपयोग हेतु अनुपयुक्त जहरीली स्प्रीट के रूप मे पाई गई,जिससे पूछताछ करने पर चोरी छिपे बेचना बताया ।

आरोपी से प्लास्टिक के केन से 10 लीटर स्प्रीट भरी कीमती 2000 रुपये को विधिवत जप्त किया गया ।
आरोपी द्वारा स्प्रीट को रखने एवं परिवहन करने के संबंध में पूछताछ करने पर कोई वैध दस्तावेज नहीं होना बताया । आरोपी का कृत्य धारा 34(ए),49 (क) म.प्र. आबकारी अधिनियम का दण्डनीय पाया जाने से आरोपी के विरुध्द थाना भगवानपुरा पर अपराध क्रमांक 12/2021 धारा 34(ए),49 (क) म.प्र. आबकारी अधिनिमय का दर्ज कर अनुसंधान में लिया गया ।
गिरफ्तार शुदा आरोपीः– सुनिल पिता कालुराम सोलकी जाति बारेला उम्र22 साल निवासी चोखण्ड गोविन्दा
जप्ती सामग्रीः– प्लास्टिक की 01 केन में भरा स्प्रिट 10 लीटर कीमती 2000 रूपये ।
उक्त कार्यवाही में अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) भीकनगॉव प्रवीण कुमार उईके के मार्गदर्शन में एवं थाना प्रभारी भगवानपुरा उनि.विश्वेश्वर करील के नेतृत्व में सउनि.रमेश भास्करे, आर. 459 कृष्ण कुमार एवं मआर. 995 आकांक्षा का सहरानीय योगदान रहा।