शामली। बंद को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने सभी जरूरी सुरक्षा इंतजाम कर लिए हैं। किसान संगठन सुबह छह से शाम चार बजे तक जिले के सभी मुख्य मार्ग बंद रखेंगे, इस दौरान स्कूली वाहनों व एम्बुलैंस को आने जाने में छूट रहेगी। किसान संगठन ने कहा है कि उनका बंद पूरी तरह शांतिपूर्वक होगा।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार केन्द्र सरकार द्वारा पारित कृषि कानूनों के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार 27 सितम्बर को भारत बंद की घोषणा की है ,जिसके लिए किसान संगठनों ने भी अपनी तैयारी लगभग पूरी कर ली है। भाकियू व किसान यूनियन के पदाधिकारी बंद को सफल बनाने के लिए गांव-गांव जनसंपर्क करने में जुटे हैं। वहीं जिला प्रशासन भी बंद को लेकर पूरी तरह अलर्ट नजर आ रहा है।

सोमवार को किसान संगठनों के बंद को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा इंतजाम कर लिए हैं। जिले की सीमाओं पर किसान संगठनों के बंद को देखते हुए पुलिस अधीक्षक सुकीर्ति माधव ने भी पुलिसकर्मियों को विशेष दिशा निर्देश दिए हैं। किसान संगठनों द्वारा जिन-जिन स्थानों पर बंद का आयोजन किया जाएगा वहां पुलिसकर्मियों की भी तैनाती की जाएगी। दूसरी ओर भारतीय किसान यूनियन व किसान यूनियन ने सभी श्रमिकों, व्यापारियों, ट्रांसपोर्टरों, व्यापारियों से बंद में समर्थन देने की भी अपील की है।

भाकियू ने भी अपने-अपने पदाधिकारियों की बंद को सफल बनाने के लिए जिम्मेदारियां सौंप दी है। भाकियू जिलाध्यक्ष कपिल खाटियान ने बताया कि सरकार के कृषि बिलों के खिलाफ सोमवार को संपूर्ण बंद का आह्वान किया गया है। बंद पूरी तरह शांतिपूर्ण रहेगा और बच्चों के स्कूली वाहन तथा एम्बुलैंस को बंद से पूरी तरह छूट रहेगी।