एसपी पर रिश्वत मांगने का आरोप लगाने के बाद संदिग्ध हालत में लगी गोली, मौत के बाद परिजनों ने उठाये पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर सवाल

by shubham

कानपुर। महोबा में एसपी द्वारा घूस मांगे जाने के बाद गोली से घायल हुए व्यापारी इंद्रजीत की देर रात रीजेंसी अस्पताल में मौत हो गई। जबकि मरने से पहले व्यापारी ने एसपी द्वारा घूस मागे जाने का वीडियो वायरल किया था। जिससे मुख्यमंत्री ने एसपी सहित कई थानेदारो को सस्पेंड कर दिया था। इसमें इन लोगो के खिलाफ भ्र्ष्टाचार का मुकदमा भी दर्ज कर दिया था। अब व्यापारी की मौत के बाद एसपी और दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ मामला और मजबूत हो जायेगा। साथ ही इनकी मुश्किलें और भी बढ़ जाएगी।

कानपुर में मृतक के परिवार ने मिडिया से कहा कि एसपी राजा बन कर घूस मांगता था और इन्होने ही हत्या करवाई है। मृतक इंद्रजीत का पुलिस ने रात में ही पैनल बना कर पोस्टमार्टम करवाया और बॉडी महोबा भेजी गई।

क्या है मामला

मामला पुलिस विभाग से जुड़ा है इसलिए पोस्टमार्टम में भारी पुलिस बल तैनात किया गया और पुलिस के अधिकारी परिजन से दूरी बनाये हुए दिखे। हाँलाकि इस बीच परिजनों से पुलिस से बहस भी हुई। जिसमे उनका कहना था कि पुलिस अपने विभाग को बचा रही है। हमें शक है पोस्टमार्टम में कुछ गड़बड़ी न हो पाए। इसलिए इसकी वीडियो ग्राफ़ी कराई जाए।

मृतक के भतीजे शरद ने बताया कि आप भी जानते है मनीलाल पाटीदार ने इनसे पैसे मांगे थे, जिसमे वीडियो भी वायरल हुआ था। फोन पर धमकी भी मिली थी। बुन्देलखण्ड में एसपी को राजा कहा जाता है। आप जानते है ये बहुत बड़ी पावर है, जिस तरह से मेरे चाचा की हत्या करवाई है उसके बाद पूरे परिवार और आई विटनेस को जान का खतरा है। जब तक आरोपी पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी नहीं होती परिवार को खतरा रहेगा।

वही मृतक इंद्रजीत के वकील रविकांत ने आरोप लगाते हुए कहा यहाँ पोस्टमार्टम में बॉडी आई, फिर कमरे में क्या लिख दिया ये पता नहीं। हमें बाहर कर दिया गया था। यहाँ भी पोस्टमार्टम में गड़बड़ी हो सकती है क्योकि एसपी महोबा के खिलाफ केस दर्ज है। इसकी वीडियोग्राफी होनी चाहिए पूरा प्रसाशन एकजुट है।

  • कौस्तुभ शंकर मिश्रा

Related Posts