ऑल इण्डिया ज्वैलर्स एंड गोल्डस्मिथ फेडरेशन की राष्ट्रीय बैठक आज नई दिल्ली स्थित “दि ओसियन पर्ल रिट्रीट रिसोर्ट” में सम्पन्न हुई जिसमें देश के 10 से अधिक राज्यो से आये सर्राफा संगठनों के प्रतिनिधयों ने हिस्सा लिया बैठक की अध्यक्षता “कंफेडरेशन ऑफ ऑल इण्डिया ट्रेडर्स” CAIT के राष्ट्रीय महासचिव श्री प्रवीण खंडेलवाल जी ने की।

बैठक में प्रवीण खंडेलवाल ने अहमदाबाद के शांति भाई पटेल को AIJGF का राष्ट्रीय चेयरमैन मनोनीत किया सभी प्रतिनिधियों ने हर्ष ध्वनि में श्री शांति भाई पटेल जी का स्वागत किया तदुपरांत बैठक में श्री प्रवीण खंडेलवाल और श्री शांति भाई पटेल जी द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए श्री पंकज अरोरा का नाम प्रस्तावित किया गया जिसे सभी प्रतिनिधियों स्वीकर कर श्री पंकज अरोरा को AIJGF का राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत किया गया


बैठक में ही राष्ट्रीय चेयरमैन शांति भाई पटेल और राष्ट्ररी अध्यक्ष पंकज अरोरा द्वारा नितिन केडिया मुम्बई को राष्ट्रीय महासचिव, सुशील कुमार जैन जी ग्रेटर नोएडा को राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष और श्री मणीन्द्र नाथ सोनी जी कानपुर को राष्ट्रीय संगठन मंत्री का पद भार दिया गया। श्री सागर केसरवानी को राष्ट्रीय सोशल मीडिया संयोजक का दायित्व सौंपा गया

कैट के राष्ट्रीय महासचिव श्री प्रवीण खंडेलवाल जी ने AIJGF के राष्ट्रीय पदाधिकारियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई और AIJGF की नीतियों की सराहना की तथा संगठन के उज्ज्वल भविष्य की कामना की

बैठक में ही AIJGF की राष्ट्रीय सलाहकार सिमित का भी गठन किया गया जिसकी घोषणा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री पंकज अरोरा द्वारा की गयी जिसमे श्री किशोर धाराशिवकर, श्री संतोष सर्राफ, श्री राजीव रस्तोगी, श्री अमित जैन, श्री मातादीन सोनी, श्री राजकुमार गुप्ता, श्री उत्तम गोलछा जी को स्थान दिया गया

बैठक के अंत में मध्यप्रदेश सर्राफा एशोसिएशन से ज्वैलर्स डेवलेपमेंट वेलफेयर एशोसिएशन और जावेरीबाजार वेलफेयर मुम्बई का AIJGF से लिखित संबद्धता पत्र अध्यक्ष श्री पंकज अरोड़ा को सौंपा गया

कार्यक्रम में श्री राकेश मलिक जी की AIJGF टीम दिल्ली के सभी सदस्यों ने भी पदभार ग्रहण किया. राष्ट्रीय बैठक में श्री अशोक कुमार वर्मा, श्री राकेश मलिक, श्री मनीष कुमार वर्मा, श्री सूरज चौहान, श्री विनोद माहेश्वरी, श्री अमित मोदक, श्री हितेश जैन, श्री मेहुल थोराट जी, श्री अमित जैन, श्री उमेश गर्ग सहित देश के कई राज्यों के सर्राफा प्रतिनिधि शामिल रहे ।

बैठक के द्वितिय सत्र में भारत सरकार द्वारा अनिवार्य हालमार्क नियमों पर विस्तृत परिचर्चा की गई जिसमें सभी ने एक स्वर में कहा कि नये कानून में अनेक विसंगतियां हैं जिस कारण सभी वर्ग के व्यापारी को परेशानी का सामना करना पड़ेगा, वक्ताओं ने कहा कि छोटे एवं मझोले व्यापारी कानून की बारिकियों से अनभिज्ञ हैं, गांवो में संसाधन सीमित है, और बिना संसाधन विकसित किए देश में हालमार्क अनिवार्यता को लागू किया गया है वह भी केवल 256 शहरों में।

सरकार द्वारा अभी huid के नियमों की व्याख्या ही करी है, विगत लम्बे समय से कोरोना महामारी ने पहले ही व्यापार की कमर तोड दी है, और वर्तमान में यदि huid की पालना करवाई जा रही है जिसमें हालमार्क सेन्टर पर जेवरों की लम्बी कतारें लगी हैं ऐसे में पुराने पड़े माल की तय समय सीमा में हालमार्क huid होना दुश्कर है सरकार को सभी परिस्थितियों को ध्यान में रखकर इसकी सीमा बढ़ाना चाहिए। देश भर से आए व्यापारीक प्रतिनिधियों ने कहा कि शुद्ध गुणवत्ता का माल बेचना हमारी प्राथमिकता है पर वर्तमान कानून की विसंगतियों को दूर किया जाना परम आवश्यक है।

अन्त में AIJGF के नव निर्वाचित अध्यक्ष पंकज अरोड़ा ने सभी आगंतुकों का आभार प्रकट कर एकजुट हो व्यापार करने एवं रिटेल व्यवसाय को संरक्षण देने पर बल दिया।