सफीपुर(उन्नाव)। पशुओं को चारा डालने को लेकर दादी की डांट से क्षुब्ध होकर किशोर ने आम के पेड़ में फांसी के फंदे से लटक कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। कोतवाली क्षेत्र के अब्दुल्ला पुर गांव निवासी निर्भय यादव का 14 वर्षीय पुत्र अर्पित जानवरों को चारा डालने को लेकर अपनी दादी की डांट से क्षुब्ध होकर गांव के बाहर अपने हो आम के बाग पहुंचकर पेड़ से फांसी के फंदे से झुमकर आत्म हत्या कर ली। परिजनों के मुताबिक शुक्रवार की शाम किशोर की दादी ने उसको घर के जानवरों को चारा डालने को लेकर डांट दिया था।

जिससे नाराज हो कर वह गांव के बाहर आम के बाग में एक पेंड से लटक गया। सुबह जब लड़के की खोजबीन शुरू की गयी तो सबसे पहले आम के पेंड के पास नीचे उंसके जूते पड़े देखे गए। जब ऊपर नजर डाली तो वह एक डाल से लटकता दिखा। लड़का परिवार के भाई बहन में सबसे छोटा था। दूसरी तरफ सुचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया ।

रिपोर्ट :- पंकज शुक्ला