बर्बरता की हदें पार राजस्थान में दिखा निर्भया जैसा कांड , सामूहिक दुष्कर्म से कांपा राजस्थान

बर्बरता की हदें पार राजस्थान में दिखा निर्भया जैसा कांड , सामूहिक दुष्कर्म से कांपा राजस्थान

बर्बरता की हदें पार राजस्थान में दिखा निर्भया जैसा कांड , सामूहिक दुष्कर्म से कांपा राजस्थान


अलवर(राजस्थान): राजस्थान के अलवर जनपद में एक दिल को झकझोर देने वाली घटना सामने आई है आपको बता दें कि अलवर में मूक-बधिर नाबालिक से कुछ दरिंदों ने गैंग रेप किया। आपको बता दें कि दिल्ली जैसा निर्भया कांड राजस्थान में होने से घमासान मच गया है। इस कांड से राजस्थान की सियासी सरगर्मी तेज हो गई है। पीड़िता का जयपुर में 8 डॉक्टरों की टीम ने ऑपरेशन किया है। जिसके बाद पीड़िता की हालत स्थिर बताई जा रही है। इस घटना के बाद पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सरकार को कटघरे में खड़ा कर सरकार के कार्यों पर निशाना साधा। वही आपको बता दें कि वारदात के बाद से पुलिस महकमे में भी हड़कंप मचा हुआ है आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एसआईटी की टीम गठित की गई है लेकिन अभी तक एक भी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आया है।


वही मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि अलवर जनपद में गैंगरेप के बाद पुलिया से फेंकी गई थी नाबालिक लड़की जिसके बाद नाजुक हालत को देखते हुए उसको अलवर के जिला अस्पताल से जयपुर रेफर कर दिया गया था। जयपुर के अस्पताल में 8 डॉक्टरों की टीम ने पीड़िता का ऑपरेशन किया है।

Also Read संदिग्ध परिस्थितियों में तालाब किनारे मिला शव


इस घटना के बाद राजस्थान के पुलिस महकमे में तहलका मचा ही है साथ ही साथ राजनीति भी गरम हो गई है विपक्षी दल सत्ताधारी दल पर सवाल उठा रहे हैं वही जयपुर लाए जाने के बाद गहलोत सरकार के स्वास्थ्य मंत्री ,उद्योग मंत्री ,महिला एवं बाल विकास मंत्री एवं महिला आयोग की अध्यक्ष और एडीजी अलग-अलग समय में अस्पताल पहुंचे और उन्होंने डॉक्टर से पीड़िता के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। साथ ही स्वास्थ्य मंत्री पीड़िता के परिजनों से भी मिले और अस्पताल प्रबंधन को पीड़िता का निशुल्क इलाज करने के लिए निर्देश दिए। साथ ही स्वास्थ्य मंत्री द्वारा जानकारी दी गई है कि पीड़िता के परिवार के रहने व खाने की भी जिम्मेदारी राजस्थान सरकार की है।

Follow Us