साझी रसोई” में पका भोजन गांव गांव पंहुचा रहे है कांग्रेस के सिपाही

साझी रसोई” में पका भोजन गांव गांव पंहुचा रहे है कांग्रेस के सिपाही

कौशाम्बी। जिला कांग्रेस कमेटी ने रविवार से “साझी रसोई” की अवधारणा पर गांव गांव में भोजन पहुंचना शुरू कर दिया है। कांग्रेस के सिपाहियों ने मंझनपुर तहसील के एक दर्जन से अधिक गावो में लांच पैकेट बना कर वितरित किया। इस दौरान गांव के बाहर झुग्गी झोपड़ी, ईंट भट्टा मजदूर, खेत खलिहान में काम करने

कौशाम्बी। जिला कांग्रेस कमेटी ने रविवार से “साझी रसोई” की अवधारणा पर गांव गांव में भोजन पहुंचना शुरू कर दिया है। कांग्रेस के सिपाहियों ने मंझनपुर तहसील के एक दर्जन से अधिक गावो में लांच पैकेट बना कर वितरित किया। इस दौरान गांव के बाहर झुग्गी झोपड़ी, ईंट भट्टा मजदूर, खेत खलिहान में काम करने वाले लोगो को भोजन पैकेट दिया। 

गौरतलब है कि कोरोना वाइरस के चलते पूरा देश लॉक डाउन के हालत से गुजर रहा है। ऐसे में कोई भी शख्स भूखे पेट न रहे, इस प्राथमिकता को ध्यान में रखकर कांग्रेस पार्टी ने “सांझी रसोई” की अवधारणा को जन्म दिया है।

Also Read बिजली चोरी मामले में दो सगे भाइयों के विरुद्ध थाना में प्राथमिकी दर्ज

 सांझी रसोई में कांग्रेस के सिपाही पूरे मनोयोग से “हाँथ आएगा अब हर गांव गरीब के काम” के नारे के साथ भोजन सामग्री तैयार करने में जुटे है। जिसमे कार्यकर्त्ता गांव के उन लोगो से संपर्क कर राशन सामग्री एकत्रित करते है जो सामाजिक तौर पर संपन्न कहे जा सकते है। एकत्रित खाद्य सामग्री से कांग्रेस के सिपाही भोजन तैयार कर गांव गरीब और असहाय परिवारों को लांच पैकेट खुद जाकर बाँट रहे है। 

ऊनो ग्राम सभा में कांग्रेस के सिपाही पप्पू मिश्रा के सहयोग से राज कुमार यादव के आवास पर साझी रसोई शुरू की गई। जिसमे डिस्ट्रिक कांग्रेस कमेटी के जिला अध्यक्ष अरुण विद्यार्थी ने अपने हाथो से कांग्रेस कार्यकर्ताओ को साथ मिलाकर भोजन तैयार कराया। रविवार को तैयार तकरीबन 1 हज़ार से अधिक लंच पैकेट मंझनपुर व् सरसवां विकास खंड के जरुरतमंद ग्रामीणों को वितरित किया गया। 

डिस्ट्रिक कांग्रेस कमेंटी के अध्यक्ष अरुण विद्यार्थी ने बताया कि केंद्रीय नेतृत्व व् यूपी प्रभारी प्रियंका गाँधी के निर्देश पर जनपद में विधान सभा स्तर पर “साझी रसोई” शुरू की गई है। जिसमे तैयार भोजन को कांग्रेस के सिपाही गांव गांव स्तर पर लोगो को भोजन मुहैया करा रहे है। सबसे ख़ास बात यह है कि साझी रसोई में ही तैयार किया हुआ भोजन पहले कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता खुद खाकर देखते है। इसके बाद ही भोजन वितरित किया जा रहा है। यह साझी रसोई कांग्रेस के सिपाही कोरोना महामारी के संकट ख़त्म होने तक जारी रहेगी।

Follow Us