गौशाला में गौवंशीय पशुओं के लगने बाले टैग मिलने से हुए आक्रोशित

गौशाला में गौवंशीय पशुओं के लगने बाले टैग मिलने से हुए आक्रोशित

शाहजहाँपुर। लॉकडाउन के चलते राष्ट्रीय गौरक्षक दल के पदाधिकारी मघई टोला स्थित गौशाला में हरी सब्जियां खिलाने पहुचे तो वहाँ पदाधिकारियों को गौवंशीय पशुओं के कान पर लगने वाले 5 टैग पड़े मिले। जिस पर गौरक्षक दल के कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जताते हुए सुपरवाइजर से जानकारी लेनी चाही पर सुपरवाइजर द्वारा कोई भी संतोषजनक उत्तर

शाहजहाँपुर। लॉकडाउन के चलते राष्ट्रीय गौरक्षक दल के पदाधिकारी मघई टोला स्थित गौशाला में हरी सब्जियां खिलाने पहुचे तो वहाँ पदाधिकारियों को गौवंशीय पशुओं के कान पर लगने वाले 5 टैग पड़े मिले। जिस पर गौरक्षक दल के कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जताते हुए सुपरवाइजर से जानकारी लेनी चाही पर सुपरवाइजर द्वारा कोई भी संतोषजनक उत्तर नही दिया गया। गौरक्षकों ने गौशाला इंचार्ज विष्णु को कई बार फ़ोन पर सूचित किया तो उन्होंने सीधे बोल दिया कि वह अभी गौशाला नही आ पायेगें। और टैग का रजिस्टर गौशाला में  रखा है आप उसमें जांच पड़ताल कर ले, सुपरवाइजर द्वारा रजिस्टर दिखाने के बाद मिलान करने पर उन टैग की रजिस्टर पर कोई भी इंट्री नही मिली। जिससे गौरक्षकों का पारा हाई हो गया उन्होंने तत्काल अपर नगर आयुक्त एस.के सिंह को फोन से सूचना दी। सूचना पर तत्काल सहायक अभियंता प्रमोद कुमार सिंह व अन्य अधिकारी गौशाला पहुंच गए। अधिकारियों को जानकारी देने पर उनके द्वारा सन्तुष्ट उत्तर नही दिया गया। जिससे गौरक्षक दल के कार्यकर्ताओं ने आशंका जताते हुए कहा कि गौशाला में गौकशी का कार्य किया जा रहा है जो लॉकडाउन के सन्नाटे में नगर निगम के आई कार्ड की आड़ में किया जा रहा है। यदि जल्द से जल्द सभी लिप्त कर्मचारियों पर कार्यवाही नही हुई तो राष्ट्रीय गौरक्षक दल मुख्यमंत्री को अवगत करायेगा। इस दौरान निर्विकल्प द्विवेदी, दीपक गुप्ता, रामजी गुप्ता, अतुल रस्तोगी, गौशाला कर्मचारी व नगर निगम के अधिकारी मौजूद रहे।

रिपोर्ट :- उर्वेश चौहान

Also Read  स्पेशल पुलिस ने जब्त की करोङो रुपयों की हेरोइन

Follow Us