जिला अस्पताल में आइसोलेशन यूनिट की खिड़की तोड़कर भागे दो कोरोना संदिग्ध बंदी

जिला अस्पताल में आइसोलेशन यूनिट की खिड़की तोड़कर भागे दो कोरोना संदिग्ध बंदी

उन्नाव :- शहर के मोहल्ला बाबूगंज में जीजीआइसी स्कूल के निकट रहने वाले रोहित और अजय को पुलिस ने चोरी के मामले में गिरफ्तार करके 20 अप्रैल को जेल भेजा गया। कारागार में दोनों को बुखार, खांसी और सांस फूलने की शिकायत पर उसी रात जिला अस्पताल भेज दिया गया था। पुलिस अभिरक्षा में दोनों

उन्नाव :- शहर के मोहल्ला बाबूगंज में जीजीआइसी स्कूल के निकट रहने वाले रोहित और अजय को पुलिस ने चोरी के मामले में गिरफ्तार करके 20 अप्रैल को जेल भेजा गया। कारागार में दोनों को बुखार, खांसी और सांस फूलने की शिकायत पर उसी रात जिला अस्पताल भेज दिया गया था। पुलिस अभिरक्षा में दोनों विचाराधीन बंदियाें का फीवर क्लीनिक में डॉक्टर ने परीक्षण किया तो कोरोना जैसे लक्षण होने से उन्हें 21 अप्रैल को कोविड-19 आइसोलेशन यूनिट भेजा गया था। आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करके सैंपल लेकर परीक्षण के लिए केजीएमयू लखनऊ भेजा।
अभी तक नहीं आई दोनों की जांच रिपोर्ट दोनों की रिपोर्ट नहीं आई है, इस वजह से उन्हें आइसोलेशन यूनिट में क्वारंटाइन पर रखे गए थे। बुधवार रात दोनों वार्ड की खिड़की में लगी जाली तोड़कर भाग निकले। सीएमएस डॉ. बीबी भट्ट ने बताया कि स्टाफ को सुबह जानकारी हुई तब कोतवाली पुलिस को सूचना दी गई। उन्होंने बताया कि दोनों पुलिस अभिरक्षा में थे और सिपाही तैनात थे। शहर कोतवाल दिनेश मिश्र ने बताया कि जिला अस्पताल की कोविड यूनिट से खिड़की काट कर दो विचाराधीन बंदियों के भागने की सूचना मिली है। रिपोर्ट दर्ज कर दोनों की तलाश की जा रही है, उनकी अभिरक्षा में लगे सिपाहियों पर कार्रवाई के लिए अधिकारियों को रिपोर्ट भेज दी है। जेलर बृजेंद्र सिंह ने बताया कि इंट्री करने के बाद मुलाहिजा से ही दोनों को अस्पताल भेज दिया था।

रिपोर्ट :- पंकज शुक्ला

Also Read प्रधानमंत्री मोदी ने बदलकर किया, शहीद के नाम पर चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम

Follow Us