जनपद की सीमाओं को जांचने पहुंचे एसडीएम

जनपद की सीमाओं को जांचने पहुंचे एसडीएम

चौसाना। शामली। कोरोना महामारी के प्रभाव को कम करने हेतु, बाहरी जनपदों के लोगों को अपने जनपद में आने से रोकने हेतु सीमाओं पर चौकसी ओर बढ़ा दी गयी है, इसी के मद्दे नज़र उपजिलाधिकारी ऊन उद्धव त्रिपाठी ने आज चौसाना क्षेत्र में जाकर गैर जनपदों से लगती हुई सहारनपुर जनपद की सीमाओं की चौकसी

चौसाना। शामली। कोरोना महामारी के प्रभाव को कम करने हेतु, बाहरी जनपदों के लोगों को अपने जनपद में आने से रोकने हेतु सीमाओं पर चौकसी ओर बढ़ा दी गयी है, इसी के मद्दे नज़र उपजिलाधिकारी ऊन उद्धव त्रिपाठी ने आज चौसाना क्षेत्र में जाकर गैर जनपदों से लगती हुई सहारनपुर जनपद की सीमाओं की चौकसी को जांचा। बॉर्डर पर तैनात पुलिस बल को हिदायत दी कि खाद्यान सप्लाई वाहनों को छोड़कर अन्य को निकासी न करने दे। बॉर्डर की सुरक्षा व्यवस्था को परखने के लिए एसडीएम ऊन-चौसाना पहुंचे और गंगोह थाना बॉर्डर व तीतरों थाना बॉर्डर का निरीक्षण किया । इस दौरान एसडीएम द्वारा चौसाना पुलिस को सघन चेकिंग अभियान चलाने के साथ सुदृढ़ सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने के लिए निर्देशित किया गया। विगत माह से शुरू हुए लॉक डाउन के बाद से बॉर्डर पर लोगों की आवाजाही रोकने के लिए अस्थाई पुलिस चौकी को बनाकर बॉर्डर को सीज किया गया था,ताकि अनावश्यक रूप से एक जनपद से दूसरे जनपद में कोई भी व्यक्ति आ व जा, ना सके। गुरुवार को एसडीएम ऊन उद्भव त्रिपाठी चौसाना चौकी पहुंचे और चौकी प्रभारी रविंद्र कुमार व उप निरीक्षक नफीस अहमद व लोकेश गौतम के साथ सीमाओं का निरीक्षण किया। गंगोह बॉर्डर पर चौसाना व गंगोह पुलिस पूरी तरह मुस्तैद दिखाई दी। जिसको देखकर एसडीएम द्वारा पुलिस को कड़ाई से नियमों का पालन करने के लिए निर्देशित किया गया और आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। जिसके बाद दोपहर के समय तीतरों बॉर्डर का भी निरीक्षण किया गया। जहां बैरिकेडिंग लगवाई गई और लोगों को जनपद की सीमाओं प्रवेश पर रोक के लिए निर्देशित किया गया। बता दें कि चौसाना के गंगोह बॉर्डर पर तो पुलिस द्वारा बेरीकेटिंग की व्यवस्था की गई थी लेकिन समुचित पुलिस बल वहां भी मौजूद नहीं रहने की शिकायतें आती रहती थी। चौकी प्रभारी रविंद्र कुमार का कहना है की एसडीएम ऊन द्वारा सीमाओं का निरीक्षण किया गया और आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं ।

रिपोर्टर:- दीपक कुमार..

Also Read चंडीगढ़ के बाद कानपुर में भी सामने आया हॉस्टल एम एम एस कांड , छात्राओं ने कर्मचारी पर लगाया गम्भीर आरोप

Follow Us