कंपनी के अंदर लॉक डाउन में अचानक सैकड़ों लोगों की भीड़ देख मचा हड़कंप

कंपनी के अंदर लॉक डाउन में अचानक सैकड़ों लोगों की भीड़ देख मचा हड़कंप

हापुड़ :- मामला जनपद हापुड़ के पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र की फैक्ट्री का है जहां करीब 300 लोग मजदूरी करते थे कोविड-19 की महामारी के चलते हुए लोग डॉन के बीच सभी लोग फैक्ट्रियां बंद होने के बाद अपने घरों में काम बंद कर के चले गए थे मजदूरों का आरोप है फैक्ट्री मालिक ने 2

हापुड़ :- मामला जनपद हापुड़ के पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र की फैक्ट्री का है जहां करीब 300 लोग मजदूरी करते थे कोविड-19 की महामारी के चलते हुए लोग डॉन के बीच सभी लोग फैक्ट्रियां बंद होने के बाद अपने घरों में काम बंद कर के चले गए थे मजदूरों का आरोप है फैक्ट्री मालिक ने 2 महीने की तनखा रोक कर रखी है फैक्ट्री मालिक बार-बार परेशान कर रहा हे मजदूरों के पैसे देने के लिए तैयार नहीं था जिसको लेकर लॉक डाउन की वजह से लोग पैसे से परेशान थे इसी बात को लेकर करीब सैकड़ों मजदूर फैक्ट्री में अचानक हड़ताल पर बैठ गए।

बताया जा रहा है फैक्ट्री में करीब सैकड़ों लोग फिलहाल काम कर रहे हैं कुछ लोग बाहर गांव के जो काम छोड़कर गए हुए थे वह भी आ गए और हड़ताल पर बैठ गए अचानक सैंकड़ों लोगों के फैक्ट्री में हड़ताल पर बैठने की खबर जैसे ही पुलिस प्रशासन को पता चली तो पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया और भारी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई पुलिस प्रशासन द्वारा फैक्ट्री के उच्च अधिकारियों से बात करने के बाद आने वाली 20 तारीख के लिए फैक्ट्री के अंदर काम कर रहे मजदूरों को पैसे देने की बात हुई।

Also Read आवारा पशुओं की बढ़ती तादाद से राहगीरों समेत किसान परेशान

तब जाकर कहीं घंटों के बाद मजदूरों का गुस्सा शांत हुआ फिलहाल पुलिस ने मौके पर पहुंचकर भीड़ को तो तीर वीर कर दिया लेकिन अब सवाल मजदूरों की तनख्वा का है क्या 20 तारीख में मजदूरों की तनख्वा मिल सकी मिल सकेगी वही संपर्क सूत्रों द्वारा मिल रही जानकारी के अनुसार पता चल रहा है अगर मजदूरों की 20 तारीख में तनखा नहीं मिली तो वह फिर धरने पर बैठकर अपनी तनख्वाह की मांग करेंगे।

रिपोर्ट :- अतुल त्यागी

Follow Us