बहन की शादी के बोझ तले दबकर, युवक ने लगाई फांसी

बहन की शादी के बोझ तले दबकर, युवक ने लगाई फांसी

उन्नाव :- थाना आसीवन क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सकतपुर में स्वर्गीय राजेंद्र सिंह का कई वर्ष पूर्व एक्सीडेंट हो गया था। और उस एक्सीडेंट में राजेंद्र सिंह की मृत्यु हो गई थी। राजेंद्र सिंह एक ट्रैक्टर ड्राइवर था जो दूसरे के ट्रैक्टर पर नौकरी करता था। अब राजेंद्र सिंह के घर में कोई कमाने वाला

उन्नाव :- थाना आसीवन क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सकतपुर में स्वर्गीय राजेंद्र सिंह का कई वर्ष पूर्व एक्सीडेंट हो गया था। और उस एक्सीडेंट में राजेंद्र सिंह की मृत्यु हो गई थी। राजेंद्र सिंह एक ट्रैक्टर ड्राइवर था जो दूसरे के ट्रैक्टर पर नौकरी करता था। अब राजेंद्र सिंह के घर में कोई कमाने वाला नहीं बचा था। स्वर्गीय राजेंद्र सिंह के घर में उनके सिर्फ छोटे-छोटे मासूम बच्चे ही बचे थे। जो कहीं भी मजदूरी करने के लायक भी नहीं थे। किसी न किसी प्रकार राजेंद्र सिंह की पत्नी अपने बच्चों का जीवन यापन किया और बच्चों को अपने पैरों पर खड़ा होना सिखाया स्वर्गीय राजेंद्र सिंह की पुत्री जो घर में सबसे बड़ी थी।

घर के जिम्मेदार मुखिया उसकी पत्नी ने अपनी पुत्री की शादी तय कर दी थी। और उसकी 14 जून को शादी की तारीख भी निर्धारित हो गई थी। जोकि राजेंद्र सिंह का पुत्र अभी कमाने धमाने में पूर्ण रूप से सक्षम नहीं था। और घर की परिस्थितियों को पूर्ण रूप से समझता था। घर की परिस्थितियों को देखकर किस तरह बहन की शादी का खर्च उठाया जाए किस तरह से बारातियों का स्वागत किया जाए, इन सब परिस्थितियों को देखकर लड़के को सदमा हो गया और वह सदमा बर्दाश्त नहीं कर सका इन सब परिस्थितियों को देखकर लड़के ने फांसी लगाकर अपनी अंतिम जीवन लीला समाप्त कर ली। तेजतर्रार चौकी प्रभारी हसमत अली ने अपने पुलिस हमराही ओं के साथ घटना वारदात के मौके पर पहुंचकर शव को तत्काल पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।

Also Read एनएचआरसीसीबी की प्रदेश स्तरीय बैठक हुआ संपन्न प्रदेश सचिव मिरी  सहित बिलासपुर मस्तूरी  टीम के पदाधिकारी हुए सम्मानित 

रिपोर्ट श्री नरायन शुक्ला (पंकज)

Related Posts

Follow Us