कोरोना पाॅजिटिव महिला ने दिया बच्चे को जन्म दिया

कोरोना पाॅजिटिव महिला ने दिया बच्चे को जन्म दिया

इटावा :- चिकित्सा विश्वविद्यालय सैफई के स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग में गंभीर स्थिति में भर्ती कोरोना पाॅजिटिव गर्भवती महिला ने सिजेरियन आप्रेशन द्वारा बच्चे को जन्म दिया है। तथा महिला एवं नवजात शिशु दोनों ठीक हैं। महिला को कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट किया गया है। तथा महिला एवं नवजात शिशु का स्त्री एवं

इटावा :- चिकित्सा विश्वविद्यालय सैफई के स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग में गंभीर स्थिति में भर्ती कोरोना पाॅजिटिव गर्भवती महिला ने सिजेरियन आप्रेशन द्वारा बच्चे को जन्म दिया है। तथा महिला एवं नवजात शिशु दोनों ठीक हैं। महिला को कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट किया गया है।

तथा महिला एवं नवजात शिशु का स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञों तथा नवजात शिशु विशेषज्ञों की देखरेख में इलाज चल रहा है। यह जानकारी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 डा0 राजकुमार ने दी। उन्होंने यह भी बताया कि स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग में गंभीर रूप में भर्ती आगरा निवासी, लगभग 38 वर्षीय इस कोरोना पाॅजिटिव गर्भवती महिला का शुरूआत से ही कोविड-19 प्रोटोकाॅल को फाॅलो करते हुए इलाज किया गया।

Also Read रूपईडीहा पत्रकार संघ की बैठक, नई कार्यकारिणी का हुआ गठन

तथा आप्रेशन की आवश्यकता होने पर गर्भवती महिला का सिजेरियन आप्रेशन किया गया। आप्रेशन सफल रहा तथा महिला ने बच्चे को जन्म दिया। वर्तमान में कोरोना प्रोटोकाॅल के तहत महिला एवं नवजात शिशु से उनके परिवार के अन्य सदस्य नहीं मिल सकते।

इस सफल आप्रेशन पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 डा0 राजकुमार ने स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग की विभागाध्यक्षा डा0 कल्पना कुमारी और आप्रेशन करने वाले  टीम के सदस्यों जिसमें डा0 अमृता, डा0 अनुराधा तथा ऐनेस्थिसिया विभाग से भाग लेने वाले डा0 मनोज एवं डा0 उस्मान तथा समस्त टीम को बधाई दी है।


इस सम्बन्ध में स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग की विभागाध्यक्षा डा0 कल्पना कुमारी ने बताया कि आगरा निवासी एक गर्भवती महिला जिनकी उम्र लगभग 38 वर्ष है विश्वविद्यालय के स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग में 5 जून को बेहद गंभीर अवस्था में भर्ती की गयीं। भर्ती के समय महिला की स्थित बेहद नाजुक थी तथा मरीज मे खून की कमी के साथ ही अन्य दिक्कतें भी थी।

जरूरी सभी जाॅचों जिसमें कोविड-19, अल्ट्रासाउन्ड तथा अन्य जाॅचे कराने के साथ ही इलाज शुरू कर दिया गया तथा दिनांक 6 जून को गर्भवती महिला की कोविड-19 जाॅच पाॅजिटिव आने के बाद 07 जून को उनका सिजेरियन आप्रेशन किया गया। सफल सिजेरियन आप्रेशन के बाद महिला ने बच्चे को जन्म दिया है। माॅ तथा बच्चे को आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है।

रिपोर्ट शिवम दुबे

Follow Us