पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया दफनाए हुए बच्चे को भू माफिया के कहने पर जबरन कब्र से निकलवाया

पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया दफनाए हुए बच्चे को भू माफिया के कहने पर जबरन कब्र से निकलवाया

हाथरस की देवी मंदिर के सामने नयाबास में स्थित पोखर पर अशोका टॉकीज निवासी सोनू अग्रवाल आज अपने मृत बच्चे को दफनाने उक्त पोखर पर पहुंचे। जहां संप्रदाय विशेष के भूमाफिया ने उक्त पोखर पर बच्चे को दफनाने का विरोध किया। मृत बच्चे के परिवारी जनों ने बताया के भू माफिया के कहने पर आई

हाथरस की देवी मंदिर के सामने नयाबास में स्थित पोखर पर अशोका टॉकीज निवासी सोनू अग्रवाल आज अपने मृत बच्चे को दफनाने उक्त पोखर पर पहुंचे।  जहां संप्रदाय विशेष के भूमाफिया ने उक्त पोखर पर बच्चे को दफनाने का विरोध किया। मृत बच्चे के परिवारी जनों ने बताया के भू माफिया के कहने पर आई 112 नंबर की पुलिस के सिपाही प्रमोद कुमार एवं गणेश दत्त ने जमीन में दफनाए हुए , बच्चे को परिवारी जनों को धमका कर जबरन कब्र से निकलवा दिया, और कहा कि इसे कहीं और ले जाकर दफनाए यह जानकारी क्षेत्र के लोगों ने हिंदू जागरण मंच के पदाधिकारियों को दी इसके बाद  हिंदू जागरण मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष अभिषेक रंजन आर्य जिला महामंत्री नरेंद्र प्रेमी जिला उपाध्यक्ष रमन बिहारी शर्मा शिवम निषाद आदि पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी उप जिलाधिकारी सदर एवं सदर विधायक हरिशंकर माहौर को दी सदर विधायक एवं उप जिलाधिकारी सदर के हस्तक्षेप के बाद पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे तब जाकर पुलिस ने भू माफिया को घटनास्थल से भगाया  और परिवारी जन अपने बच्चे का अंतिम संस्कार कर पाए इस घटना को लेकर क्षेत्र के लोगों में अत्यंत रोष है क्षेत्र के लोगों का कहना है कि सैकड़ों वर्षो से आसपास के गांवों के मृत बच्चों को इसी पोखर में दफनाया जाता है लेकिन कुछ समय से एक संप्रदाय विशेष का भूमाफिया गुंडों को लेकर क्षेत्र के लोगों को  को डरा धमका कर मृत  बच्चों को दफनाने नहीं देता है और इस पोखर के अलावा आस पास कोई ऐसी जगह नहीं है जहां मृत बच्चों का अंतिम संस्कार किया जा सके।

  • रिपोर्ट :- अमित सहपाऊ

Related Posts

Follow Us