कोविड-19 अस्पताल में भर्ती चार कोविड संक्रमित मरीजों की डायलिसिस

कोविड-19 अस्पताल में भर्ती चार कोविड संक्रमित मरीजों की डायलिसिस

इटावा :- सैफई चिकित्सा विश्वविद्यालय सैफई में भर्ती 04 कोविड पाॅजिटिव मरीजों की डायलिसिस कोविड-19 अस्पताल में लगी डायलिसिस यूनिट में की गयी। ये सभी मरीज नजदीकी जनपद इटावा, औरैया तथा मैनपुरी के है। डायलिसिस के बाद इन मरीजों की स्थित बेहतर है। यह जानकारी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 (डा0) राजकुमार ने दी। उन्होंने बताया

इटावा :- सैफई चिकित्सा विश्वविद्यालय सैफई में भर्ती 04 कोविड पाॅजिटिव मरीजों की डायलिसिस कोविड-19 अस्पताल में लगी डायलिसिस यूनिट में की गयी। ये सभी मरीज नजदीकी जनपद इटावा, औरैया तथा मैनपुरी के है। डायलिसिस के बाद इन मरीजों की स्थित बेहतर है।

यह जानकारी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 (डा0) राजकुमार ने दी। उन्होंने बताया कि कोविड-19 अस्पताल बनने के बाद नियमित डायलिसिस यूनिट को ट्रामा सेन्टर के भू-तल पर शिफ्ट कर दिया गया है तथा कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए डायलिसिस की 04 मशीनें कोविड-19 अस्पताल में लगायी गयी हैं। अभी इन सभी मशीनों का उपयोग पूरी तरह से कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए ही किया जायेगा।

Also Read एनएचआरसीसीबी की प्रदेश स्तरीय बैठक हुआ संपन्न प्रदेश सचिव मिरी  सहित बिलासपुर मस्तूरी  टीम के पदाधिकारी हुए सम्मानित 

इसके अलावा नाॅन कोविड मरीजों के नियमित डायलिसिस के लिए 15 डायलिसिस मशीनें ट्रामा सेन्टर के भू-तल पर लगायी गयी हैं साथ ही नाॅन कोविड इमर्जेंसी मरीजों की डायलिसिस के लिए आईसीयू में भी 02 मशीने लगायी गयी है।


डायलिसिस सेंटर के इंचार्ज एवं मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ मनोज कुमार ने बताया कि शासनादेश के क्रम में तथा कुलपति महोदय के निर्देशानुसार गुर्दे के मरीजों के डायलिसिस के लिए वैकल्पिक व्यवस्था के अन्तर्गत 15 डायलिसिस मशीने नाॅन-कोविड मरीजों के लिए ट्रामा एवं इमर्जेंसी के भू-तल पर लगायी गयी हैं।

यहाॅ पूर्व की भाॅति गुर्दे के मरीजों की डायलिसिस 09 बजे से 05 बजे के मध्य दो शिफ्टों में की जा रही है। उन्होंने यह भी बताया कि नियमित डायलिसिस के लिए विश्वविद्यालय द्वारा 24ग्7 डायलिसिस हेल्पलाइन नंबर 05688-276568 जारी किया गया है जिस पर मरीज फोन करके डायलिसिस से सम्बन्धित जानकारी भी प्राप्त कर सकता हैं।


कोविड-19 अस्पताल के प्रभारी डा0 रमाकान्त रावत ने बताया कि चूॅकि कोविड-19 का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है तथा गुर्दे के मरीज भी कोविड संक्रमण से अछूते नहीं हैं। इसके अलावा विश्वविद्यालय में बाहर से भी कोविड संक्रमित गुर्दे के मरीज भर्ती या रेफर किये जा रहे है। इन मरीजों की सहूलियत के लिए कोविड-19 अस्पताल में अलग से प्रशिक्षित डायलिसिस टेक्निशियन कोविड-19 डायलिसिस यूनिट में लगाये गये हैं।

रिपोर्ट शिवम दुबे

Follow Us