तहसीलदार व खनन विभाग की टीम ने मारा छापा डंपर किया सीज

तहसीलदार व खनन विभाग की टीम ने मारा छापा डंपर किया सीज

महोबा (उत्तर प्रदेश) :- महोबा जनपद में पुलिस की मिली भगत से जिले में अबैध खनन का कारोवार जोरों पर है। खनन माफिया वेख़ौफ़ खनन कार्य करते रहते है। खनन माफियाओं व भ्रष्ट पुलिस ने देश की खनन संपदा को लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ी ऐसी स्थति कोई एक दो दिन की नहीं वल्कि

महोबा (उत्तर प्रदेश) :- महोबा जनपद में पुलिस की मिली भगत से जिले में अबैध खनन का कारोवार जोरों पर है। खनन माफिया वेख़ौफ़ खनन कार्य करते रहते है।

खनन माफियाओं व भ्रष्ट पुलिस ने देश की खनन संपदा को लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ी ऐसी स्थति कोई एक दो दिन की नहीं वल्कि वर्षों से अबैध खनन का कारोवार जारी है। और पुलिस की मिली भगत से इस पर प्रतिवंध लगाने की जगह अबैध खनन को और अधिक गति देने का कार्य किया जा रहा है।

Also Read स्तानीय पुलिस ने तीन तलाक के मामले में आरोपी पति को भेजा जेल


ऐसा ही नजारा देखने को मिला महोबा जिला के सुर्खियों में रहने वाले अजनर थाना के धवर्रा चौकी क्षेत्र में जहां चौंकी प्रभारी राजेश प्रजापति की नाक के नीचे ग्राम चमरूआ गांव में अबैध खनन का कार्य जारी था।

जिसकी गोपनीय सूचना जब  तहसीलदार एवं खनन विभाग की टीम को मिली तो जिम्मेदार सक्रिय अफसरों ने मौके पर पहुंचकर छापा मारी की व लगभग 300 घन मीटर वालू जब्त कर ली।


इसी क्रम में आपको बता दें मीडिया द्वारा खंगाली गयी ये तो एक नजीर है जिले के हालात इससे भी बद्तर है। पुलिस अधीक्षक महोबा को मीडिया के द्वारा अबैध खनन की जानकारी कई वार दी गयी।

किन्तु पुलिस अधीक्षक सहित अन्य जिम्मेदार पुलिस अफसरों ने इस दिशा में ध्यान देना उचित नहीं समझा जिससे स्पष्ट होता है। कि पुलिस उच्च अफसर भी इस अबैध कार्य मे संलिप्त हैं।

रिपोर्ट धर्मेंद्र कुमार

Related Posts

Follow Us