निर्माणाधीन कार्याें में लापरवाही क्षम्य नही – जिलाधिकारी

निर्माणाधीन कार्याें में लापरवाही क्षम्य नही – जिलाधिकारी

श्रावस्ती :- निर्माणाधीन कार्यों को जो अभी तक प्रारम्भ नही हुए है तत्काल उन्हें प्रारम्भ किया जाये और जिले के ही श्रमिकों को निर्माण कार्य में लगाया जाय ताकि उन्हें रोजी-रोजगार के लिए इधर-उधर भटकना न पड़े और सरकार की मंशा के अनुरूप उन्हें जिले में ही रोजगार मिल सके। जिले में निर्माणाधीन विकास कार्याें

श्रावस्ती :- निर्माणाधीन  कार्यों को जो अभी तक प्रारम्भ नही हुए है तत्काल उन्हें प्रारम्भ किया जाये और जिले के ही श्रमिकों को निर्माण कार्य में लगाया जाय ताकि उन्हें रोजी-रोजगार के लिए इधर-उधर भटकना न पड़े और सरकार की मंशा के अनुरूप उन्हें जिले में ही रोजगार मिल सके।

जिले में निर्माणाधीन विकास कार्याें में शिथिलता कदापि न बरती जाय और समय सीमा के अन्तर्गत उनको हर हाल में पूरा किया जाय क्योकि निर्माणाधीन विकास कार्याें में यदि समय बढ़ता है तो उनके लागत में भी बढ़ोत्तरी होती है।

Also Read शिक्षक बना जल्लाद मार-मार कर की छात्र की हत्या

इसलिए सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों/कार्यदायी संस्थाओं के परियोजना प्रबंधकों का दायित्व बनता है कि वे अपने विभागों से सम्बन्धित हो रहे निर्माण कार्याें को मौके पर जाकर देखे और गुणवत्तायुक्त ढ़ग से उन्हे पूरा करायें।

उक्त निर्देश कलेक्ट्रेट सभागार में विभिन्न विभागों के अधिकारियों एवं कार्यदायी संस्थाओं के परियोजना प्रबंधको के साथ जिले में निर्माणाधीन विकास कार्यो/25 लाख के लागत से हो रहे विकास कार्याें की गहन समीक्षा करने के दौरान जिलाधिकारी सुश्री यशु रूस्तगी ने दिया है। उन्होनें जोर देते हुए कहा कि निर्माणाधीन कार्याें के गुणवत्ता के जांच टेक्निकल टीम से करायी जायेगी

यदि उसमें कमी मिली तो निश्चित ही सम्बन्धित  कार्यदायी संस्था के साथ-साथ सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों पर भी कार्यवाही सुनिश्चित होगी। लोक निर्माण विभाग द्वारा करायी जा रहे सड़को के निर्माण कार्य के समीक्षा के दौरान यह पाया गया कि कोविड-19 लाॅकडाउन के कारण कार्य बाधित था

उन सभी निर्माणाधीन कार्यो में श्रमिकों की संख्या बढ़ा कर कार्य में तेजी लाकर उन्हें पूरा कराया जाय।
जिलाधिकारी ने 25 लाख से अधिक लागत की राजकीय निर्माण निगम द्वारा  निर्माणाधीन जनपद न्यायालय के अन्तर्गत विभिन्न कैटेगरी के आवास, कोर्ट, जिला कारागार के अधूरे कार्य, स्वदेश दर्शन योजना में बौद्ध सर्किट के अन्तर्गत पर्यटन विकास कार्य, रीजनल कनेक्टिविटी के अन्तर्गत एयरपोर्ट के निर्माण कार्य में धीमी प्रगति पाये जाने पर जिलाधिकारी ने परियोजना प्रबंधक को श्रमिकों की संख्या बढ़ा कर कार्य में तेजी लाकर पूरा कराने का निर्देश दिया है।

इसके अलावा जनपद न्यायालय में निर्माणाधीन कार्यो का निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने हेतु अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिया गया है। सड़कों के निर्माण के समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने यु़द्ध स्तर पर कार्य करा कर अधूरी निर्माणाधीन सड़को को गुणवक्ता पूर्ण ढ़ग से पूरा कराने का निर्देश दिया है।


इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ए0पी0 भार्गव, परियोजना निदेशक , डी0सी0 मनरेगा, जिला विद्यालय निरीक्षक जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, अधिशाषी अभियन्ता  सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी/अभियन्ता एवं कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

  • रिपोर्ट- पंकज मिश्रा

Follow Us