मोबाइल लूट का अपराधी टाॅप 10 साथी सहित दबोचा

मोबाइल लूट का अपराधी टाॅप 10 साथी सहित दबोचा

इटावा :- सिविल लाइन थाना पुलिस ने मोबाइल लूट गिरोह के मास्टर माइंड अपराधी को उसके साथी थाना के टाॅप 10 शातिर सहित पकड़ने में सफलता हासिल की है। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने शुक्रवार रात दोनों को पाॅलीटेक्निक काॅलेज के पास से दोनों को दबोच लिया जबकि उनका एक साथी अंधेरे का लाभ

इटावा :- सिविल लाइन थाना पुलिस ने मोबाइल लूट गिरोह के मास्टर माइंड अपराधी को उसके साथी थाना के टाॅप 10 शातिर सहित पकड़ने में सफलता हासिल की है। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने शुक्रवार रात दोनों को पाॅलीटेक्निक काॅलेज के पास से दोनों को दबोच लिया जबकि उनका एक साथी अंधेरे का लाभ लेकर भाग निकला। पुलिस ने उनके पास से एक तमंचा व लूट के तीन मोबाइल भी बरामद किए हैं।


शनिवार रात सिविल लाइन थाना पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि आईटीआई चैराहा से हाइवे सर्विस रोड स्थित पाॅलीटेक्निक काॅलेज के पास दो संदिग्ध लोग अवैध असलहे लिए खड़े हैं। इस पर सीओ सिटी के नेतृत्व में एसओजी व थाना पुलिस से दो टीमों ने मौके पर पहुंच कर दबिश दी।

Also Read बिहार में प्रेम -विवाह मामलों में लड़कियां निकली लड़कों से आंगे

और घेराबंदी कर दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि उनका एक साथी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकला। सीओ सिटी एसएन वैभव पांडे ने बताया कि पकड़े गए अतुल पुत्र अशोक कुमार व आकाश पुत्र विनोद कुमार थाना क्षेत्र के कोकपुरा में रहने वाले हैं। इनके पास से एक तमंचा व लूटे गए तीन मोबाइल बरामद किए गए हैं।

ये लोग अपने साथियों के संग शहर में लूट (विशेषतः मोबइल लूट) कर ओएलएक्स मोबाइल एप के जरिए बेच दिया करते थे। अतुल के विरुद्ध फ्रेंड्स काॅलोनी, सिविल लाइन व बलरई थाना में आम्र्स एक्ट, गैंग्स्टर एक्ट सहित विभिन्न धाराओं के 13 मामले दर्ज हैं।

वहीं आकाश के विरुद्ध बलरई, फ्रेंड्स काॅलोनी व सिविल लाइन थाना में आम्र्स एक्ट सहित विभिन्न धाराओं के पांच मामले दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि इसी वर्ष 28 फरवरी को इन लोगों ने बलरई थाना क्षेत्र के जाखन गांव के पास पाठकपुर विद्यालय के सामने दिल्ली से अपने गांव नगला तौर जा रहे।

व्यक्ति से दो मोबाइल व पांच हजार रुपये की लूट की थी। 19 फरवरी को इन लोगों ने नुमाइश चैराहा से डीएम चैराहा की ओर जा रहे व्यक्ति से मोबाइल लूटा था। उन्होंने बताया कि दोनों अभियुक्तों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जा रहा है।

कार्रवाई करने वाली टीम में एसओजी प्रभारी सत्येंद्र यादव व प्रभारी सर्विलांस बीके सिंह व उनकी टीम तथा सिविल लाइन थानाध्यक्ष जितेंद्र प्रताप सिंह व थाना पुलिस शामिल रही।

रिपोर्ट शिवम दुबे

Related Posts

Follow Us