HRD मंत्री निशंक ने कक्षा 1-5 तक के बच्चों के लिए जारी किया वैकल्पिक अकादमिक कैलेंडर

HRD मंत्री निशंक ने कक्षा 1-5 तक के बच्चों के लिए जारी किया वैकल्पिक अकादमिक कैलेंडर

उत्तर प्रदेश :- कोरोना के चलते बाधित शिक्षण व्यवस्था के बीच मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने प्राथमिक स्तर यानि कक्षा 1 से 5 के छात्र-छात्राओं की शैक्षणिक गतिविधियों को जारी रखने के लिए एनसीईआरटी द्वारा बनाया गया आठ हफ्ते का वैकल्पिक अकादमिक कैलेंडर जारी किया। इसके पहले मंत्री ने पहले चार

उत्तर प्रदेश :- कोरोना के चलते बाधित शिक्षण व्यवस्था के बीच मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने प्राथमिक स्तर यानि कक्षा 1 से 5 के छात्र-छात्राओं की शैक्षणिक गतिविधियों को जारी रखने के लिए एनसीईआरटी द्वारा बनाया गया आठ हफ्ते का वैकल्पिक अकादमिक कैलेंडर जारी किया। इसके पहले मंत्री ने पहले चार हफ्ते के लिए एक वैकल्पिक कैलेंडर अप्रैल में जारी किया था।

इस वैकल्पिक अकादमिक कैलेंडर में नई तकनीकों एवं सोशल मीडिया को तरजीह दी गई है। जिससे कि बच्चे घर पर इन तकनीकों के प्रयोग से आनंदपूर्वक और रुचिपूर्ण ढंग से शिक्षा ग्रहण कर अपनी पढाई अनवरत जारी रख सकें।

Also Read साधु की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत , हत्या या आत्महत्या

इस मौके पर रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने कहा, मानव संसाधन विकास मंत्रालय छात्रों की शैक्षणिक गतिविधियों को लगातार जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध है। साथ ही इस आठ सप्ताह के कैलेंडर में यह भी सुनिश्चित करने का प्रयास किया है। कि छात्रों को कम से कम समय कंप्यूटर स्क्रीन के सामने बिताना पड़े।

केंद्रीय मंत्री ने कहा, “इस कैलेंडर के द्वारा सभी छात्र, जिनके पास इंटरनेट सुविधा है वे भी और जिनके पास नहीं है वे भी, शिक्षा ग्रहण कर सकते हैं। इस वैकल्पिक कैलेंडर में अध्यापकों के लिए ये दिशानिर्देश भी हैं।

कि वो स्टूडेंट्स को मोबाइल पर एसएमएस भेजकर या फ़ोन पर कॉल कर के उनका मार्गदर्शन करें. इंटरनेट सुविधा उपलब्ध होने की स्थिति में अध्यापक, पैरेंट्स और बच्चे व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्वीटर, टेलीग्राम, गूगल मेल और गूगल हैंगऑउट द्वारा एक दूसरे से जुड़ सकते हैं और पढाई जारी रख सकते हैं।”

रिपोर्ट अमित कुमार श्रीवास्तव

Follow Us