निरंकुश पुलिस प्रशासन ने बिजली विभाग कर्मचारी का ही काट दिया चालान

निरंकुश पुलिस प्रशासन ने  बिजली विभाग कर्मचारी का ही काट दिया  चालान

फतेहपुर :- जनपद के थाना चांदपुर में वाहन चेकिंग का कार्य बदसलूकी से चल रहा है। गांव क्षेत्रों में पुलिस प्रशासन पहुंच कर आम जनमानस को त्रस्त कर रही है। ताजा मामला विद्युत उपकेंद्र चांदपुर कहां है। जहां पर लाइनमैन अजीत कुमार पुत्र राम बिहारी सचान निवासी तारापुर बुढवां फतेहपुर कार्यरत है। भिखनीपुर फीडर की

फतेहपुर :- जनपद के थाना चांदपुर में वाहन चेकिंग का कार्य बदसलूकी से चल रहा है। गांव क्षेत्रों में पुलिस प्रशासन पहुंच कर आम जनमानस को त्रस्त कर रही है। ताजा मामला विद्युत उपकेंद्र चांदपुर कहां है। जहां पर लाइनमैन अजीत कुमार पुत्र राम बिहारी सचान निवासी तारापुर बुढवां फतेहपुर कार्यरत है।

भिखनीपुर फीडर की लाइन खराब हो जाने पर स्वयं बिजली विभाग अधिकारी के आदेशानुसार इंसुलेटर लेने अमौली विद्युत उपकेंद्र जा रहा था। रास्ते में अमौली चौराहे पर स्वयं चांदपुर थाना अध्यक्ष केशव वर्मा वाहन चेकिंग अभियान लगाए हुए थे।

Also Read चोर ने 10 वर्ष पुरानी दूकान से किया कुन्तलों लोहा पार

कर्मचारी को रोककर मोबाइल नंबर पूछा और आगे जाने को कहा। कुछ दूर जाने के बाद लाइनमैन के फोन पर मैसेज आया जिसमें पैंतीस सौ रुपए का चालान काटा गया। जबकि लाइनमैन के पास मौजूदा हालत में आईडी मास्क एवं गाड़ी के पूरे कागज मौजूद थे।

इसके साथ साथ 5 जून को अपर पुलिस अधीक्षक ने एक विज्ञप्ति जारी की थी। जिसमें बिजली विभाग के किसी भी कर्मचारी को कोविड-19 के चलते परेशान न करने की बात कही गई थी। थानाध्यक्ष महोदय ने इस आरटी संदेश को एक कोने में रख दिया और स्वयं लाइनमैन का बिना जानकारी लिए ही चालान कर दिया।

विद्युत उपकेंद्र के कर्मचारियों ने बताया कि इससे पहले भी लाइनमैन छोटेलाल का पंद्रह सौ रुपए का चालान 1 जून को थाना अध्यक्ष महोदय ने काटा था। उस समय में लाइनमैन भिखनीपुर से ट्रांसफार्मर सही करवा कर अपने गांव मेहंदिया आ रहा था।

चांदपुर के ग्रामीणों ने बताया थानाध्यक्ष महोदय इसी प्रकार गूढेस्वर अखंड धाम मंदिर में जाकर भी बिना किसी कारण के कई लोगों के चालान काटे जिससे मंदिर पुजारी अत्यंत कुपित हुए। परंतु थानाध्यक्ष ने किसी की एक बात भी नहीं सुनी और अपना सा ही चलाते हुए चालान काट दिया।

इससे साफ जाहिर होता है। कि या तो पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों का थाना अध्यक्ष महोदय के ऊपर चालान काटने का दबाव है। या फिर अपनी तानाशाही के कारण बिना जानकारी किए ही सरकारी कर्मचारियों एवं बिजली विभाग के सात हजार वेतन भोगी का पैंतीस सौ रुपए का चालान मनमानी ढंग से काट रहे हैं।

जानकारी के अनुसार मजदूर लाइनमैन अजीत कुमार पुत्र राम बिहारी सचान ने इस चालान को न जमा करके पुलिस प्रशासन के खिलाफ कोर्ट जाने का फैसला लिया है।

Follow Us