एक दूसरे को बचाने में जुटे सांसद और चेयरमैन

एक दूसरे को बचाने में जुटे सांसद और चेयरमैन

हाथरस: भाजपा के एक सांसद ने पूरी भाजपा सरकार को घुटनों पर लाकर रख दिया। एक भाजपा सांसद और उनकी बेटी की षणयंत्रकारी कारस्तानी ने योगी और मोदी सरकार की स्थिति खराब कर दी। हालांकि अब योगी स्थिति को संभालने में लगे हैं। लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये है कि सीएम योगी विपक्षियों को यह

हाथरस: भाजपा के एक सांसद ने पूरी भाजपा सरकार को घुटनों पर लाकर रख दिया। एक भाजपा सांसद और उनकी बेटी की षणयंत्रकारी कारस्तानी ने योगी और मोदी सरकार की स्थिति खराब कर दी। हालांकि अब योगी स्थिति को संभालने में लगे हैं। लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये है कि सीएम योगी विपक्षियों को यह कह रहे हैं कि विपक्ष राजनीतिक रोटियां सेक रहा है तो ये रोटी सेकने का मौका विपक्ष को दिया किसने ? सरकार को कार्यवाही डीएम एसपी पर न करके उस शख्स पर करनी थी जिसने और उसकी बेटी ने अलीगढ़ में बैठकर पूरा षणयंत्र रचा। भाजपा को बैकफुट पर लाने वाला कोई और नहीं बल्कि भाजपा सांसद और उनकीबेटी है।


जब इन षणयंत्र की जानकारी बीजेपी और ठाकुर समाज के कुछ लोगों को लगी तो उन्होंने सांसद का पुतला फूंक कर विरोध भी किया है। ठाकुरों के कोप से बचने के लिए चेयरमैन ने सांसद को बचाने की नई स्क्रिप्ट रची है। सांसद को लेकर चेयरमैन अलीगढ़ जेल में मिलने के लिए ले गया। चेयरमैन और सांसद एक दूसरे को बचाते नजर आ रहे हैं। जब हमने सांसद से यह पूछा था कि चेयरमैन जमीनों पर कब्जे कर रहा है जिसका विरोध खुद कुछ भाजपाई ही कर रहे हैं तो सांसद का यह बयान था कि जमीनों पर कब्जे करने का मामला मेरे संज्ञान में नहीं है ।

Also Read करंट लगने से किशोर की मौत,परिवार में मचा कोहराम

जबकि हाथरस में पूर्व सांसद राजेश दिवाकर और पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष रामबीर सिंह परमार ने जमीनों पर हो रहे अवैध कब्जों पुरजोर विरोध किया था। भाजपा नेता मुकुल उपाध्याय ने भी चेयरमैन की जमीनों पर कब्जा करने की शिकायत जिलाधिकारी से की है। सांसद के झूठ की पोल तब खुल गयी जब चेयरमैन सांसद को लेकर अपने और लब्बू के पक्ष में जिलाधिकारी से मिले। यानीकि सांसद को सब कुछ पता था और जानबूझकर अनभिज्ञता जताई जा रही थी।

रिपोर्ट- कैलाश पौनियां विद्रोही

Related Posts

Follow Us