इलाहाबाद हाई कोर्ट की टिप्पणी , प्रदेश में लग सकता है पूर्ण लॉकडाउन

इलाहाबाद हाई कोर्ट की टिप्पणी , प्रदेश में लग सकता है पूर्ण लॉकडाउन

प्रयागराज : कोरोना संक्रमण मन के बढ़ते मामलों को देखते हुए। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चिंता जताई है। आपको बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सरकार से लॉकडाउन के आदेश पर विचार करने के लिए कहा है। हाईकोर्ट ने कहा है कि

प्रयागराज : कोरोना संक्रमण मन के बढ़ते मामलों को देखते हुए। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चिंता जताई है। आपको बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सरकार से लॉकडाउन के आदेश पर विचार करने के लिए कहा है। हाईकोर्ट ने कहा है कि अधिक संक्रमित जनपदों में 2 से 3 सप्ताह का लॉकडाउन लगाने का सरकार विचार करें। कोर्ट ने मास्क पहनने का सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया है. सड़कों पर बगैर मास्क के लोगों के टहलने पर पुलिस के खिलाफ अवमानना की कार्रवाई हो सकती है।


खुले मैदान में खोले अस्पताल : इलाहाबाद हाई कोर्ट

उत्तर प्रदेश में एक बार फिर कोरोना संकरण विकराल रूप धारण कर रहा है। जिस पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चिंता जताई है साथ ही साथ हाई कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को कहा है कि शहरों में खुले मैदान में अस्थाई अस्पताल बनाकर लोगों का इलाज किया जाए। जरूरी समझने पर संविदा पर स्टाफ की तैनाती भी की जाए। कोरोना को लेकर दायर एक जनहित याचिका पर सुनवाई के बाद कोर्ट ने ये आदेश दिया है। जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा और जस्टिस अजीत कुमार की खंडपीठ ने आदेश जारी किया है।

Related Posts

Follow Us