अवैध देशी शराब बनाने की फैक्ट्री का पर्दाफाश,पांच गिरफ्तार

अवैध देशी शराब बनाने की फैक्ट्री का पर्दाफाश,पांच गिरफ्तार

सीतापुर : उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने सीतापुर जिले के महोली में अवैध रुप से चल रही देशी शरब फैक्ट्री का पर्दाफाश करते हुए मौके से पांच लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से भारी मात्रा में शराब और उसके बनाने की सामग्री आदि बरामद की। एसटीएफ प्रवक्ता ने आज यहां

सीतापुर : उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने सीतापुर जिले के महोली में अवैध रुप से चल रही देशी शरब फैक्ट्री का पर्दाफाश करते हुए मौके से पांच लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से भारी मात्रा में शराब और उसके बनाने की सामग्री आदि बरामद की।

एसटीएफ प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पिछले कुछ समय से लखनऊ और उसके आस-पास के जिलों में अवैध रूप से शराब फैक्ट्री एवं विक्री के बारे में सूचनाएं प्राप्त हो रही थी, जिसकी रोकथाम एवं आरोपियों पर प्रभावी कार्रवाई के एसटीएफ की विभिन्न टीमों को निर्देशित किया गया था। जिसके अनुपालन में एसटीएफ मुख्यालय से पुलिस उपाधीक्षक राकेश कुमार मिश्र के पर्यवेक्षण में कार्य कर रही टीम ने अभिसूचना संकलन की कार्रवाई कर रही थी, इसी दौरान जानकारी मिली कि सीतापुर जिले के महोली इलाके में बरेली हाईवे के किनारे स्थित एक धर्मकांटे के पास अवैध शराब का निर्माण व भण्डारण किया जा रहा है, साथ ही साथ सीतापुर सहित निकटवर्ती जिलो में आपूर्ति भी की जा रही है।

उन्होंने बताया कि इस सूचना पर एसटीएफ के उपनिरीक्षक करूणेष पाण्डेय के नेतृत्व में एक टीम गठित कर सीतापुर के लिए रवाना किया गया। एसटीएफ ने स्थानीय पुलिस को सूचना से अवगत कराते हुये स्थानीय पुलिस के सहयोग से बताये गये स्थान पर पहुंचकर मंगलवार रात छापा मारकर अवैध रूप से चल रही शराब फैक्ट्री का भडाफोड़ कर मौके से पांच लोगों सीतापुर निवासी विजय कुमार वर्मा,बलवीर वर्मा, अंकुश वर्मा और कानपुर देहात निवासी सुमित कुमार और शिव शंकर गुप्ता को रात 23.40 बजे गिरफ्तार किया। मौके से 148 पेटी देशी शराब, इसके बनाने लिए 09 ड्रम स्प्रिट, आरओ प्योरीफायर मशीन, पैकिंग मशीन के अलावा करीब 20 हजार विभिन्न ब्राण्ड के ढक्कन ,10,000 छोटी बोतले,08 बण्डल क्यूआर कोड, दो बोरी रैपर (फाइटर ब्राण्ड),कार,तीन मोबाइल फोन और कुछ नकदी आदि बरामद की।

प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार विजय कुमार वर्मा ने बताया कि वह अपने चार-पाॅच साथियों के साथ मिलकर सीतापुर व आस-पास जिस ब्राण्ड की शराब की खपत ज्यादा होती है, उसी ब्राण्ड की शराब अवैध रूप से निर्माण कराता है और उसे आस-पास सप्लाई कराता है।गिरफ्तार आरोपियों को आज जेल भेज दिया।

Related Posts

Follow Us