पत्नी वियोग में पति ने ससुराल के बाहर ही शुरू किया धरना प्रदर्शन

पत्नी वियोग में पति ने ससुराल के बाहर ही शुरू किया धरना प्रदर्शन

मोहब्बत जब किसी से होती है तो आदमी सात समुंदर पार से भी खिंचा चला आता है। कहते हैं कि मोहब्बत करने वाले कितनी भी दूर हो फिर भी वह पास होते हैं। तो वही उत्तर प्रदेश के आगरा नगरी को तो आप जानते ही होंगे जहां प्यार की एक बेहद खास निशानी बनी हुई

मोहब्बत जब किसी से होती है तो आदमी सात समुंदर पार से भी खिंचा चला आता है। कहते हैं कि मोहब्बत करने वाले कितनी भी दूर हो फिर भी वह पास होते हैं। तो वही उत्तर प्रदेश के आगरा नगरी को तो आप जानते ही होंगे जहां प्यार की एक बेहद खास निशानी बनी हुई है। हास गवाह है आगरा में बने ताजमहल और प्यार की दास्तां का, आज का भी या मोहब्बत का मामला उत्तर प्रदेश के आगरा से ही है। जहां पर पत्नी वियोग में एक पति अपने ससुराल के बाहर ही धरने पर बैठ गया। आपको बता दें कि आगरा में एक पति अपनी पत्नी के मायके आकर दो दिन से धरने पर बैठा है। पति का कहना है कि वो हर कीमत पर या तो पत्नी को लेकर जाएगा या फिर फैसला करके जाएगा।लड़की पक्ष मामले में कुछ बोलने को तैयार नहीं है। पुलिस मामले की जानकारी न होने की बात कह रही है।

मामला आगरा थाना जगदीशपुरा के सुलहकुल नगर का है। यहां जयपुर निवासी अविनाश वर्मा नामक युवक अपनी ससुराल के बाहर दो दिन से धरने पर बैठा है। जमीन पर बैठा देख पड़ोसी ने उसे एक कुर्सी दे दी है और दो दिन से युवक कुर्सी पर बैठा हुआ है। युवक का कहना है कि पिछले छः वर्षों से पत्नी अकारण अपने घर से बहाने बनाकर ससुराल वापस नहीं आ रही है।अब वो या तो पत्नी को लेकर जाएगा या अंतिम फैसला करके जाएगा।उसके आने पर पत्नी बहाने से कहीं रिश्तेदारी में चली गयी है।लगातार पत्नी आकर बात करने की बात कह रही है पर आ नहीं रही है,इसलिए वो धरने पर बैठा हुआ है।

सालगिरह पर ब्यूटी पार्लर गई पत्नी 6 साल जब अपने मायके से नहीं लौटी तो पति ने पत्नी के घर के बाहर ही धरना प्रदर्शन करने की ठान ली। और भाई पिछले 2 दिन से पत्नी के घर के बाहर बैठा है। बातचीत करने पर युवक अविनाश वर्मा ने बताया कि उसकी शादी 2 मई 2015 को आराधना से हुई थी। एक साल बाद 2 मई 2016 को पत्नी ने शादी की पहली सालगिरह पर घर पर छोटी सी दावत का आयोजन किया। दोपहर में पत्नी ब्यूटीपार्लर गयी और दिन भर मेकअप का बहाना बताकर खुद के पार्लर में होने की बात कहती रही। रात होने पर जब फोन पर बात की तो उसने अभद्रता करते हुए खुद के मायके आ जाने की बात कही।

Also Read मुग़ल-इ-आज़म जमाने की फटफटिया से फर्राटे भरते जनाब , कौन करेगा इन पर कार्रवाई

अविनाश के अनुसार पत्नी के मायके जाने के बाद कई बार उसे समझा बुझा कर लाने का प्रयास किया पर वो हर बार कोई न कोई बहाना बनाकर बाद में आने का वादा करती और घर नहीं आती।इस बीच उसने मानवाधिकार आयोग का नोटिस भेज दिया। मेरी तरफ से सेक्शन 9 में कार्यवाही की गई। जब वो तब भी साथ रहने नहीं आई तो मैंने तलाक का नोटिस भेज दिया। बदले में उसने परिवार के साथ मिलकर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज करवा दिया। अभी भी पत्नी पक्ष द्वारा कोई जवाब नहीं मिल रहा है,न वो तलाक दे रहे हैं न साथ रहने को तैयार हैं।

पत्नी वियोग में 6 साल से परेशान है युवक

पत्नी के घर के बाहर धरने पर बैठे अवनीश वर्मा ने बताया कि नहीं के मायके जाने के बाद तनाव बढ़ने पर वो मानसिक बीमार हो गया और अभी भी उसकी दवाएं खानी पड़ रही हैं।अच्छी भली कंपनी में अकाउंटेंट की नौकरी छूट गयी और पिछले छह साल से बेरोजगारी का शिकार हो गया हूँ। पुलिस को इस मामले की कोई जानकारी नहीं है न किसी भी तरफ से कोई प्रार्थना पत्र आया है।

Recent News

Follow Us