भारद की चेतावनी, सड़कें नहीं बनी तो करेंगे अनशन

भारद की चेतावनी, सड़कें नहीं बनी तो करेंगे अनशन

आजमगढ़। नगर क्षेत्र की बदहाल सड़कों की मरम्मत कराने की मांग को लेकर आज भारत रक्षा दल के प्रतिनिधि मंडल ने जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा और चेतावनी दी कि यदि 15 अगस्त तक नगर की सड़कों को गड्ढा मुक्त नहीं किया गया तो हम धरना/क्रमिक अनशन पर बैठेंगे और जब तक सड़कें नहीं

आजमगढ़। नगर क्षेत्र की बदहाल सड़कों की मरम्मत कराने की मांग को लेकर आज भारत रक्षा दल के प्रतिनिधि मंडल ने जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा और चेतावनी दी कि यदि 15 अगस्त तक नगर की सड़कों को गड्ढा मुक्त नहीं किया गया तो हम धरना/क्रमिक अनशन पर बैठेंगे और जब तक सड़कें नहीं बनेंगी हमारा अनशन धरना जारी रहेगा। 

ज्ञापन देने आए पदाधिकारियों ने कहा कि यह हमारा मण्डल मुख्यालय है, यहां की सड़कें इस कदर टूट गई हैं कि इसका वर्णन ही नहीं किया जा सकता। नगर क्षेत्र की लगभग सभी सड़कें गड्ढे में तब्दील हो गई हैं, कुछ की हालत तो बदतर हो चुकी है, बारिश में गड्ढों में पानी भर जाता है लोग उसमें गिर गिरकर घायल हो रहे हैं। इससे किसी को मतलब नहीं है, साथ ही दलाल घाट से हर्रा की चुंगी जाने वाली सड़क को सड़क कहा ही नहीं जा सकता, यह सड़क सालों से खराब है, आने जाने वाले और मोहल्लेवासी बुरी तरह परेशान है। लोगों ने इसके लिए आवाज उठाई, प्रार्थना पत्र दिया लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है, जबकि सड़क बनाना नगरपालिका और पीडब्ल्यूडी की ड्यूटी है, इनको इनकी ड्यूटी याद दिलाने के बाद भी यह नहीं सुन रहे हैं। अब पानी सड़क ही नहीं सर से ऊपर जा रहा है। सड़क का नियम पालन न होने पर जनता पर जुर्माना लगता है, लेकिन खराब सड़कों के न बनने पर किसी की कोई जिम्मेदारी तय नहीं होती। हम लोगों ने तय किया है कि अब यदि 15 दिन के अंदर सड़क नहीं बनाई गई तो हम इसके लिए जिला प्रशासन, नगर पालिका और पीडब्ल्यूडी कार्यालय के सामने तब तक निरंतर अनशन व धरना देंगे जब तक सड़क नहीं बन जाएगी।

जिलाधिकारी को संबोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी प्रशासन ने लेते हुए कहा कि आप लोगों की मांग जायज है इसके लिए हम नगर पालिका और पीडब्ल्यूडी को निर्देशित कर रहे हैं। प्रतिनिधि मंडल में उमेश सिंह गुड्डू, दिनेश चंद्र राय, प्रवीण कुमार, दीपक जायसवाल, ज्योति प्रकाश ,सुनील वर्मा, रवि प्रकाश शामिल रहे।

Also Read बिना ड्राइवर अचानक चल पड़ी मालगाड़ी, 70 किलोमीटर तक दौड़ी, और फिर जो हुआ

रिपोर्ट : शैलेंद्र शर्मा

Related Posts

Follow Us