NH 927 के बगल सूखा पेड़ कभी भी बन सकता बड़े हादसे की वजह

NH 927 के बगल सूखा पेड़ कभी भी बन सकता बड़े हादसे की वजह

रूपईडीहा बहराइच। हाईवे पर लापरवाही से होने वाले हादसों में हर वर्ष सैकड़ों लोगों की जान चली जाती है। हाल ही के हादसों की बात करें तो कानपुर एवं बाराबंकी के भीषण सडक हादसों पर प्रधानमंत्री तक ने शोक व्यक्त किया था। हाईवे पर लापरवाही का नया मामला पेड़ों से संबंधित है। कस्बे की NH

रूपईडीहा बहराइच। हाईवे पर लापरवाही से होने वाले हादसों में हर वर्ष सैकड़ों लोगों की जान चली जाती है। हाल ही के हादसों की बात करें तो कानपुर एवं बाराबंकी के भीषण सडक हादसों पर प्रधानमंत्री तक ने शोक व्यक्त किया था। हाईवे पर लापरवाही का नया मामला पेड़ों से संबंधित है। कस्बे की NH 927 सड़कों के किनारे खड़े कई पेड़ सूख गए हैं। इससे हर वक्त दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। इसके आसपास से गुजरने वाले लोग दुर्घटना को लेकर डरे रहते हैं, विशेषकर तब जब तेज हवा चल रही हो।

रूपईडीहा वन विभाग भी इन सूखे पेड़ों को जल्द से जल्द काटने पर गंभीरता नहीं दिखा रहा है। गर्मी में आंधी-तूफान आने की संभावना अधिक रहती है। ऐसे में कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है। रुपईडीहा वन विभाग कार्यालय के अंदर में ही लगा एक विशाल वृक्ष सूख गया है। यह वृक्ष नेशनल हाइवे से लगा हुआ है। लगभग चौबीसों घंटे इस मार्ग से दुपहिया वाहनों से लेकर भारी ट्रकों तक का आना-जाना लगा रहता है। ऐसी स्थिति में पूरी तरह से सूख चुके इस वृक्ष से गिरने से भारी नुकसान होने की संभावना है। स्थानीय लोगो का कहना कि वृक्ष पूरी तरह से सूख चुका है और काफी पुराना भी है। बारिश के दिनों में आंधी पानी में इस वृक्ष के गिरने की संभावना बनी रहेगी। दुर्घटना की संभावना को देखते हुए वृक्ष को पहले ही काटकर हटा दिया जाना चाहिए।

रिपोर्ट रईस

Also Read पुलिस भर्ती परीक्षा: कानपुर से धरे गये 6 मुन्ना भाई

Related Posts

Follow Us