दलित वर्ग के साथ न हो उत्पीड़न की घटना

दलित वर्ग के साथ न हो उत्पीड़न की घटना

कौशांबी। जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक एवं अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ माननीय कांशीराम गेस्ट हाउस में समीक्षा बैठक की गयी। बैठक में उपाध्यक्ष ने जिलाधिकारी से कहा कि अनुसूचित जाति/जनजाति के व्यक्तियों को जितने भी पट्टे आवंटित किये गये है, उन सभी का उप जिलाधिकारियों के माध्यम से सत्यापन करा लिया जाय कि उस भूमि पर

कौशांबी। जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक एवं अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ माननीय कांशीराम गेस्ट हाउस में समीक्षा बैठक की गयी। बैठक में उपाध्यक्ष ने जिलाधिकारी से कहा कि अनुसूचित जाति/जनजाति के व्यक्तियों को जितने भी पट्टे आवंटित किये गये है, उन सभी का उप जिलाधिकारियों के माध्यम से सत्यापन करा लिया जाय कि उस भूमि पर आवंटी व्यक्ति का कब्जा है या नहीं, कब्जा न होने की स्थिति पर कब्जा दिलवाया जाय।

उन्होंने जिलाधिकारी से कहा कि ग्राम पंचायतों में नियुक्त सफाई कर्मियों से सफाई का कार्य लिया जाना सुनिश्चित किया जाय। उन्होने कहा कि गांवो में जल निकासी की बेहतर व्यवस्था हो सके, इसके लिए गांवो में नालियों का निर्माण कराया जाय।

Also Read मकनपुर मेले के लिए पुलिस के चाक चौबंद इंतजाम

बैठक में उपाध्यक्ष ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाये कि समाज के गरीब एवं दलित वर्ग के व्यक्तियों के साथ किसी प्रकार का उत्पीड़न न हो, उनके साथ न्याय किया जाय। उन्होंने जिलाधिकारी से जनपद को विकसित किये जाने के संबंध में विभिन्न विकास कार्य कराये जाने पर विस्तृत चर्चा की।

उन्होंने समाज कल्याण अधिकारी, पीओ डूडा, उपायुक्त उद्योग सहित अन्य संबंधित अधिकारियों से विभिन्न योजनाओं की विस्तृत समीक्षा करते हुए निर्देशित किया कि अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों को केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजनाओं से लाभान्वित किया जाय।

उप मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि आयुष्मान भारत योजना के तहत पात्र गरीब व्यक्तियों को अवश्य लाभान्वित किया जाय।

रिपोर्ट :— श्रीकांत यादव कौशाम्बी

Recent News

Related Posts

Follow Us