साइकिल यात्रा को राष्ट्रीय सचिव ने किया हरी झंडी दिखाकर रवाना

साइकिल यात्रा को राष्ट्रीय सचिव ने किया हरी झंडी दिखाकर रवाना

कायमगंज(फर्रुखाबाद):- समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के जन जागरण अभियान के क्रम में आज समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं ने साइकिल यात्रा निकाली। तीर्थ नगरी कंपिल से प्रारंभ हुई साइकिल यात्रा को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अखिलेश कटियार ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। साथ ही उन्होंने कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते हुए स्वयं भी

कायमगंज(फर्रुखाबाद):- समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के जन जागरण अभियान के क्रम में आज समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं ने साइकिल यात्रा निकाली। तीर्थ नगरी कंपिल से प्रारंभ हुई साइकिल यात्रा को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अखिलेश कटियार ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। साथ ही उन्होंने कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते हुए स्वयं भी साइकिल चलाते हुए साइकिल यात्रा को गंतव्य तक पहुंचाया ।

निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार राष्ट्रीय सचिव कटियार एवं वरिष्ठ सपा नेता महेंद्र सिंह कटियार ,डा० सुबोध यादव ,जिला अध्यक्ष नदीम अहमद फारुकी सहित अन्य पार्टी पदाधिकारी तथा काफी संख्या में कार्यकर्ता कंपिल -कायमगंज मार्ग पर स्थित पेट्रोल पंप के सामने एकत्र हुए। यहां से साइकिल यात्रा का काफिला रवाना हुआ। कंपिल से कायमगंज तक पूरी साइकिल यात्रा के समय जगह -जगह कार्यकर्ताओं ,ग्रामीणों तथा युवाओं ने साइकिल यात्रियों का गर्मजोशी से स्वागत किया। पार्टी झंडा लगाए साइकिल यात्री तीनों काले कृर्षि कानूनों को वापस लेने ,गन्ने का बकाया मूल्य भुगतान करने, डीजल पेट्रोल रसोई गैस की बढ़ी हुई कीमतों को नियंत्रित करने , कानून व्यवस्था सही करने में सरकार की असफलता बताते हुए, गगनभेदी नारे लगाकर चल रहे थे। प्रारंभ स्थल से चलकर साइकिल यात्रा गांव रायपुर के सामने से होती हुई ।

Also Read लापरवाही या हादसा : ट्रेन में सफर कर रहे युवक के गर्दन में घुसी लोहे की रॉड, मौत

कायमगंज बाईपास मार्ग पर पहुंची। यहां से चलकर ग्राम पितौरा के सामने स्थित अमित राइस मिल के पास साइकिल यात्रियों का एक बार फिर स्वागत किया गया और यहीं पर यात्रा का समापन हो गया। यात्रा समापन अवसर पर सपा नेताओं ने पूरे विश्वास के साथ कहा कि भाजपा सरकार की जन विरोधी नीतियों के कारण आज पूरा उत्तर प्रदेश तथा देश का हर वर्ग परेशान है। उन्होंने महंगाई बेरोजगारी जैसे कई सवालों को उठाते हुए हर स्तर पर सरकार को असफल बताया। इन नेताओं का कहना था कि आज पूरा प्रदेश जंगलराज बन चुका है । मां बहिनों की आबरू तक सुरक्षित नहीं है।

लोकतंत्र का गला घोटा जा रहा है। महिला जनप्रतिनिधियों को चुनाव लड़ने तथा मताधिकार का प्रयोग करने तक से वंचित करने के लिए प्रदेश में महिलाओं को निर्वस्त्र करने की घटनाएं अब किसी से छिपी नहीं है । इसलिए 2022 के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश से भाजपा की विदाई अब निश्चित हो गई है। उन्होंने विश्वास के साथ कहा कि जनता विकास चाहती है और अखिलेश को अगले मुख्यमंत्री के रूप में देखने के लिए आगामी विधानसभा चुनाव में अपना बोट समाजवादी पार्टी के पक्ष में ही करने का मन बना चुकी है।

रिपोर्ट : दानिश खान

Recent News

Related Posts

Follow Us