नदी के बहाव को देखते हुए पंचनद इलाके में हाई अलर्ट

नदी के बहाव को देखते हुए पंचनद इलाके में हाई अलर्ट

जगम्मनपुर(जालौन)।बाढ़ के प्रबल वेग एवं नदियों में निरंतर बढ़ते जलस्तर को लेकर हाई अलर्ट जारी किया गया है । मध्य प्रदेश , राजस्थान , हरियाणा सहित संपूर्ण उत्तर पश्चिमी भारत में लगातार भीषण वर्षा के कारण सभी नदियों का जलस्तर ऊपर उठ जाने से बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है जिस कारण उत्तर प्रदेश

जगम्मनपुर(जालौन)।बाढ़ के प्रबल वेग एवं नदियों में निरंतर बढ़ते जलस्तर को लेकर हाई अलर्ट जारी किया गया है । मध्य प्रदेश , राजस्थान , हरियाणा सहित संपूर्ण उत्तर पश्चिमी भारत में लगातार भीषण वर्षा के कारण सभी नदियों का जलस्तर ऊपर उठ जाने से बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है जिस कारण उत्तर प्रदेश के पंचनद इलाके में जहां यमुना, चंबल , सिन्ध, क्वारी, पहूज पांच नदियों का संगम है।

वहां भविष्य भीषण बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है।मध्य प्रदेश से आने बाली सिंध नदी ने प्रचंड रूप धारण कर लिया है । मध्य प्रदेश के दतिया जिला अंतर्गत रतनगढ़ माता मंदिर के लिए जाने वाला सिंध नदी पर बना पुल तथा लांच पिछोर का पुल पानी की प्रचंड लहरों में समा गया , चंबल नदी में कोटा बैराज से पानी छोड़े जाने के कारण आज रात में चंबल नदी का पानी पांच मीटर ऊंचा बढ़कर आ रहा है एवं सिंध नदी में 10 मीटर ऊपर पानी बढ़कर आने की सूचना पर जालौन इटावा प्रशासन चौकन्ना हो गया है ।

पंचनद इलाके में बाढ़ की संभावना को देखते एसएचओ रामपुरा इंस्पेक्टर जे पी पाल, एसएसआई अनिल द्विवेदी, उप निरीक्षक दिलीप बर्मा चौकी प्रभारी जगम्मनपुर ने पुलिस बल के साथ बाढ़ प्रभावित इलाके के गांव जायघा, निनावली , सिद्धपुरा, हुकमपुरा, विलौड, जखेता, मिर्जापुर जागीर, नरौल कंजौसा ,मढेपुरा, शिवगंज , गुढा,वेरा, चंदावली, पतराही महटौली आदि नदी के किनारे के सभी गांवों का भ्रमण कर ग्रामवासियों भीषण बाढ़ की संभावनाओं की चेतावनी तथा सावधान रहने की सलाह दी है एवं किसी भी प्रकार के खतरे की संभावना होने पर तत्काल पुलिस को सूचना देने के लिए कहा ताकि समय रहते मदद की जा सके ।

Also Read बिना ड्राइवर अचानक चल पड़ी मालगाड़ी, 70 किलोमीटर तक दौड़ी, और फिर जो हुआ

रिपोर्ट : भूपेंद्र सिंह

Follow Us