वीएचपी अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष ने श्रीराम समापन निधि पर हर आरोप से किया इनकार

वीएचपी अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष ने श्रीराम समापन निधि पर हर आरोप से किया इनकार

आजमगढ़ : विश्व हिंदू परिषद का किसी राजनीतिक दल से संबंध नहीं है और जो दल हिंदू हित की बात करेगा विश्व हिंदू परिषद का समर्थन उसी को रहेगा। श्रीराम समर्पण निधि के दुरुपयोग के लगाए जा रहे आरोप निराधार हैं। वीएचपी इसको लेकर किसी भी जांच के लिए तैयार है। यह बातें वीएचपी के

आजमगढ़ : विश्व हिंदू परिषद का किसी राजनीतिक दल से संबंध नहीं है और जो दल हिंदू हित की बात करेगा विश्व हिंदू परिषद का समर्थन उसी को रहेगा। श्रीराम समर्पण निधि के दुरुपयोग के लगाए जा रहे आरोप निराधार हैं। वीएचपी इसको लेकर किसी भी जांच के लिए तैयार है। यह बातें वीएचपी के अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने आजमगढ़ में कही।

आजमगढ़ के एचएमपीएस स्कूल में विश्व हिंदू परिषद के गोरक्ष प्रांत की दो दिवसीय बैठक में शामिल होने के लिए संगठन के अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए।जन्माष्टमी पर अपने स्थापना दिवस को तमाम कार्यक्रमों के साथ मनाने को लेकर, संभावित तीसरी कोरोना लहर से रक्षा, अवैध मतांतरण पर रोक व मठ मंदिरों की मुक्ति के संकल्प को लेकर विश्व हिंदू परिषद के गोरक्ष प्रांत की बैठक में तमाम निर्णय लिए गए।

Also Read फाइनेंस की रुपए लूट मामले में फाइनेंस कर्मी ही निकला मास्टरमाइंड

इस संबंध में अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि श्री राम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान में पूरे देश से संपर्क किए गए थे। गांव में एक लाख से अधिक स्थानों पर विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता अब स्थापना दिवस कार्यक्रम मनाएंगे। कोरोना की तीसरी लहर से रक्षा व उसके विरुद्ध युद्ध का आगाज इस बैठक में हुआ। उन्होंने बताया कि हिंदू शक्तियों के साथ मिलकर भारत के 1 लाख से अधिक गांव व शहरी बस्तियों में व्यापक जन जागरण कर न सिर्फ लोगों को इसके बचाव के प्रति जागरूक करेंगे बल्कि पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद भी करेंगे। उन्होंने कहा कि देशभर के मठ व मंदिरों पर सरकारी नियंत्रण से मुक्ति के लिए केंद्र सरकार से आवाहन किया गया है। क्योंकि अन्य वर्गों के धार्मिक स्थलों पर सरकार का जब नियंत्रण नहीं है तो हिंदू धर्म के स्थलों पर नहीं होना चाहिए। वही जनसंख्या नियंत्रण को लेकर उन्होंने कहा कि अगर 1 बच्चे को लेकर कोई कानून बनता तो उसका वह विरोध करेंगे। अगर दो बच्चों के साथ ही अन्य कानून बनते हैं तब वह समर्थन करेंगे। आलोक कुमार ने पिछले दिनों श्रीराम समर्पण निधि को लेकर चल रहे तमाम बातों पर कहा कि इसमें कोई विवाद नहीं है। सभी आरोप निराधार हैं। इसमें तीन पक्ष है और न्यास ने जो भी भूमि क्रय की है। वह वर्तमान के समय के मार्केट रेट से भी कम है। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने पुलिस से जांच की मांग की है। तो वह हर प्रकार की जांच के लिए तैयार हैं। वहीं उन्होंने कहा कि हिंदू धर्म को लेकर सभी दलों का नजरिया बदला है कोई गोत्र की बात करता तो कोई जनेऊ पहनने की, कोई मंदिर बनाने की बात करता है। यहां तक की समर्पण निधि को लेकर वीएचपी के कार्यकर्ता सभी दलों के लोगों के पास गए आजमगढ़ में भी 8 बार से विधायक रह चुके नेता ने डेढ़ लाख रुपए निधि में दिया था। कुल मिलाकर विश्व हिंदू परिषद ने हर हिंदू के दरवाजे पर पहुंचने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि अवैध मतांतरण व गोवध जैसे मुद्दों को लेकर केंद्र से कानून बनाने की मांग करता है।

रिपोर्ट : शैलेंद्र शर्मा

Recent News

Related Posts

Follow Us