दोस्त की बेटी से बात करना पड़ा महंगा , बेटी के प्रेमी व उसके साथी को उतारा मौत के घाट

दोस्त की बेटी से बात करना पड़ा महंगा , बेटी के प्रेमी व उसके साथी को उतारा मौत के घाट

प्रतापगढ़ : उत्तर प्रदेश की प्रतापगढ़ जिला पुलिस ने पट्टी इलाके में दो दिन पहले हुए दोहरे हत्याकांड का खुलासा करते हुए आज दो हत्यारो को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल ने बुधवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नौ अगस्त को पूर्वाह्न करीब 11 बजे पट्टी इलाके में सपहाछात के

प्रतापगढ़ : उत्तर प्रदेश की प्रतापगढ़ जिला पुलिस ने पट्टी इलाके में दो दिन पहले हुए दोहरे हत्याकांड का खुलासा करते हुए आज दो हत्यारो को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक सतपाल अंतिल ने बुधवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नौ अगस्त को पूर्वाह्न करीब 11 बजे पट्टी इलाके में सपहाछात के निकट खेत में दो युवकों शिव भोले तथा रवीन्द्र के शव बरामद किए गये थे। उन्होंने बताया कि इस घटना के खुलासे के लिए कई टीम बनाई गई थी।

उन्होंने बताया कि पट्टी थाना प्रभारी निरीक्षक पट्टी गणेश प्रसाद सिंह ने मुखबिर खास की सूचना पर पट्टी इलाके मुजाही बाजार से घटना से सम्बन्धित दो अभियुक्तों उसकी गांव के सुभाष और उसके साथी सुलतानपुर निवासी योगेन्द्र को गिरफ्तार किया गया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार हत्यारोपियों ने पूछताछ पर 08/09 अगस्त की रात्रि को दोनो लोग अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर सपहाछात गांव के निकट धान के खेत में रवीन्द्र व शिवभोले को शराब पिलाकर उनकी गला दबाकर उनकी हत्या कर दी थी।

घटना के कारणों के सम्बन्ध में उन्होंने बताया कि हमारी अविवाहित लड़की से रवीन्द्र देर रात तक बात करता था तथा तरह-तरह से अफवाह भी फैलाता रहता था, जिससे हमारी बदनामी हो रही थी। इसी बात को लेकर हम लोग योजना बनाकर सपहाछात गांव के पास धान के खेत में शराब पीने के बहाने से रवीन्द्र को बुलाया था, साथ में रवीन्द्र का साथी शिवभोले भी आ गया था। शिवभोले हमेशा रवीन्द्र का साथ देता था। हम लोगों ने दोनो को शराब पिलाई और बातचीत करते-करते रवीन्द्र और शिवभोले दोनो हम लोगों से लड़ने लगे थे । उसी दौरान गला दबाकर उनकी हत्या कर दी थी। उन्होंने बताया कि हत्या में शामिल अन्य आरोपियों को चिन्हित कर लिया गया है जिनकी गिरफ्तारी जल्द ही सुनिश्चित की जायेगी। पुलिस अधीक्षक ने इस घटना का खुलासा करने वाले पुलिस दल को बतौर इनाम 10 हजार रुपये जबकि अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी व क्षेत्राधिकारी रानीगंज/पट्टी को प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया ।

वार्ता

Recent News

Related Posts

Follow Us