व्यापारी नेता ने किया अनोखा  प्रदर्शन

व्यापारी नेता ने किया अनोखा  प्रदर्शन

आजमगढ़: गुरुवार की दोपहर में कलेक्ट्रेट भवन में अजीब नजारा देखने को मिला। जब शहर की जर्जर सड़कों की मरम्मत कराए जाने और व्यापारियों की सुरक्षा में शस्त्र लाइसेंस की मांग को लेकर डीएम कार्यालय गेट के सामने ही लेटकर व्यापारी नेता पद्माकर लाल वर्मा गुटूर प्रदर्शन करने लगे। बताया जा रहा व्यापारी नेता ने

आजमगढ़: गुरुवार की दोपहर में कलेक्ट्रेट भवन में अजीब नजारा देखने को मिला। जब शहर की जर्जर सड़कों की मरम्मत कराए जाने और व्यापारियों की सुरक्षा में शस्त्र लाइसेंस की मांग को लेकर डीएम कार्यालय गेट के सामने ही लेटकर व्यापारी नेता पद्माकर लाल वर्मा गुटूर प्रदर्शन करने लगे। बताया जा रहा व्यापारी नेता ने डीएम के समय न देने से नाराज हो ऐसा कदम उठाया। उप्र उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के जिलाध्यक्ष पद्माकर लाल वर्मा का कहना है कि शहर की सड़कों की हालत काफी जर्जर हो चुकी है।

नगर की खराब सड़क विशेषकर सब्जीमण्डी से कटरा, बदरका पाण्डेय बाजार तिराहा व बदरका से आराजीबाग व ज्योति निकेतन से डा० सलमानी के दवाखाना तक, दलालघाट से कोट से चन्द्रशेखर की मूर्ति हर्रा चुंगी तक, रेलवे स्टेशन, रानी की सराय आदि की सड़को की हालत बहुत खराब है व नगर की नाली व नालों की सफाई न होने के कारण बारिश होने पर पानी सड़कों पर बहने लगता है जिससे भारी दिक्कत है।

इसके अलावा उन्होने कहा कि व्यापारियों को माल लाने व ले जाने के लिए बाहर आना जाना पड़ता है। जिससे व्यापारियों की सुरक्षा के लिए वे काफी दिनों से डीएम के यहां शस्त्र लाइसेंस की मांग कर रहे हैं । पर डीएम से उनकी मुलाकात नहीं हो पा रही है। गुरुवार को भी वे संगठन के जिला महामंत्री सुआल प्रसाद गोंड के साथ डीएम से मिलने के लिए उनके कार्यालय पर पहुंचे ।

Also Read IIT Kanpur में आयोजित हुई पुष्प प्रदर्शनी

उनका कहना था कि डीएम उस समय अपने कार्यालय में मौजूद थे, लेकिन उन्होंने उनसे मिलने का समय नहीं दिया। इस बात से नाराज होकर व्यापारी नेता डीएम कार्यालय के सामने गेट पर ही लेट गए और प्रदर्शन करने लगे। व्यापारी नेता का कहना था कि जब तक डीएम साहब नहीं मिलेंगे तब तक वह नहीं उठेंगे। इधर जिलाधिकारी पीछे के रास्ते से अपने कार्यालय से निकल कर मीटिंग सभागार में पंहुचे और बैठक की। बैठक के बाद जिलाधिकारी अपने वाहन पर बैठकर कलेक्ट्रेट से चले गए। व्यापारियों नेताओं ने कहा कि अधिकारियों के इस रवैये को लेकर उनमें में रोष व्याप्त है।

रिपोर्ट:शैलेन्द्र शर्मा

Related Posts

Follow Us