हत्या का आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

हत्या का आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

आपको बता दें कि मामला जिले के मलावर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम जमोनिया का है, जहां तीन लोगों ने मिलकर एक व्यक्ति को मौत के घाट उतार दिया, गांव के ही परिचित व्यक्ति ने कुछ काम होने की बात कहकर लखन पिता बापुलाल भिलाला को अपने घर के सामने ले जाकर पास ही रखी एक

आपको बता दें कि मामला जिले के मलावर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम जमोनिया का है, जहां तीन लोगों ने मिलकर एक व्यक्ति को मौत के घाट उतार दिया, गांव के ही परिचित व्यक्ति ने कुछ काम होने की बात कहकर लखन पिता बापुलाल भिलाला को अपने घर के सामने ले जाकर पास ही रखी एक लोहे की गेती उसके सिर में मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया जिससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया|
आरोपी सूरज भील, उसका लड़का अंकित, व उसकी पत्नी देवली बाई, ने गेती से अपने ही गांव के लखन पिता बापुलाल, के सिर पर गेती से हमला कर दिया जिससे की लखन की सिर में चोट लगने से उसकी मृत्यु हो गई|


जैसे ही मामले की सूचना लगते ही जिला पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा, द्वारा तत्काल मामले में संज्ञान लेते हुए थाना प्रभारी मलावर को कड़े निर्देश दिए जिसके चलते आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने में मलावर थाना प्रभारी एवं उनकी टीम को सफलता प्राप्त हुई है|
आपको बता दें कि 29 अगस्त 2020 को फरियादी बापूलाल ने थाना मलावर मैं रिपोर्ट दर्ज कराई की मेरे गांव का ही सूरज पिता बाबूलाल भील, मेरे घर आया और मेरे लड़के लखन को बोला मेरे घर चलो कुछ काम है, तभी मेरा लड़का लखन, सूरज, के साथ चला गया, मैंने सोचा मेरे लड़के को क्यों बुलाया है| इसलिए मैं भी पीछे पीछे चला गया, उसके घर के पास पहुंच कर देखा तो सूरज, ओर उसका लड़का अंकित, व सूरज, की पत्नी देवली बाई,मेरे लड़के को पकड़े हुए थे, और तभी सूरज ने मेरे लड़के लखन, के सिर में लोहे की गेती से सिर मैं मार दी और वह लोग वहां से भाग गए, सिर में गंभीर चोट लगने से लखन, की मौके पर ही मृत्यु हो गई|

Also Read एकतरफा प्यार में युवती को मारा चाकू, खुद छत से लगाई छलांग


बापूलाल की रिपोर्ट पर थाना मलावर मैं आरोपियों के विरुद्ध अपराध क्रमांक 150/20 धारा 302,34 भादवी का मामला कायम कर विवेचना में लिया गया|
जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एसआर दंडोतिया, एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस नरसिंहगढ़ भारतेंदु शर्मा, के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई टीम के अथक प्रयासों से आरोपी अंकित, व देवली बाई, जल्द ही गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया गया| जहां से उनको जेल भेजा गया|
घटना की गंभीरता को देखते हुए, फरार आरोपी सूरज को गिरफ्तार करने पर जिला पुलिस अधीक्षक प्रदीप शर्मा द्वारा आरोपी के विरुद्ध 5000 रुपए के इनाम की घोषणा भी की गई,
आपको बता दें कि मामले में विवेचना के दौरान हर संभव प्रयास करते हुए मुखबिर की सूचना के आधार पर आरोपी सूरज, को ग्राम देव खेड़ी के जंगलो से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल हुई है|


आरोपी जंगलों में लुक छुप कर अपना जीवन निर्वहन कर रहा था, थाना प्रभारी मलावर राजपाल राठौर, एवं उनकी टीम द्वारा आरोपी सूरज पिता बाबूलाल भील, उम्र 32 साल निवासी ग्राम जमुनिया को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से हत्या के दौरान उपयोग में लाए गए आला जरर भी जप्त किए गए हैं|
आरोपी को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया है|
उक्त सराहनीय कार्य में थाना प्रभारी मलावर राजपाल राठौर, प्रधान आरक्षक 266 मनोहर शर्मा, आरक्षक 477 मुकेश पवैया, आरक्षक 228 संजय दमाहे, आरक्षक 931 सुनील भील, एवं आरक्षक चालक 972 शिवराज, की मुख्य भूमिका रही है|

रिपोर्ट: कमल चौहान

Related Posts

Follow Us