शादीशुदा महिला को प्रेम जाल में फंसा कर उसकी इज्ज़त के साथ खेलता रहा

शादीशुदा महिला को प्रेम जाल में फंसा कर उसकी इज्ज़त के साथ खेलता रहा

छत्तीसगढ़ बिलासपुर शादीशुदा महिला को अपने जाल में फंसा उसे अपनी पत्नी बनाने का सपना दिखाकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने वाले फरार आरोपी को पुलिस ने पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार किया, मामला तोरवा थाना क्षेत्र अंतर्गत का है…मामले में थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि पिछले साल 8 दिसंबर को हेमू नगर निवासी

छत्तीसगढ़ बिलासपुर शादीशुदा महिला को अपने जाल में फंसा उसे अपनी पत्नी बनाने का सपना दिखाकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने वाले फरार आरोपी को पुलिस ने पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार किया, मामला तोरवा थाना क्षेत्र अंतर्गत का है…
मामले में थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि पिछले साल 8 दिसंबर को हेमू नगर निवासी एक शादीशुदा महिला ने थाना तोरवा पहुंचकर शिकायत पंजीबद्ध कराई जिसमे उसने बताया कि 2014 में अपने पति एवं बच्चों के साथ हेमू नगर स्थित चंद्रा चौक के पास आरोपी आशीष सिंह के चाचा मनोज सिंह के मकान में रह रही थी,इसी बीच उसकी मुलाकात आशीष सिंह से हुई,जिसने पहले तो महिला को बहला-फुसलाकर अपने प्रेम के जाल में फंसाया,उसके बाद उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने के चक्कर में महिला को अपनी पत्नी बनाने का झांसा दिया और फिर उसके साथ लगातार शारीरिक संबंध बनाया..
इस बीच जब महिला ने आरोपी आशीष सिंह पर शादी करने का दबाव डाला,तो दुष्कर्मी आशीष सिंह ने महिला से कहा कि वह पहले अपने पति से तलाक ले ले,उसके बाद वह उसे अपनी पत्नी बनाएगा,इस तरह महिला अपने पति से तालाक भी ले ली,लेकिन इसी बीच दुष्कर्मी आशीष सिंह मौके से फरार हो गया..
ऐसे में महिला कहीं की नहीं रही पति से भी गई,परिवार से भी छूटी और जालसाज आशीष सिंह का साथ भी नही मिला, जिसके बाद थक हार कर महिला ने थाना तोरवा पहुँच उक्त मामले की शिकायत की,जिसके बाद लगभग साल भर से दुष्कर्मी आशीष सिंह की तलाश तोरवा पुलिस द्वारा की जा रही थी..
इसी बीच मुखबिर से तोरवा पुलिस को सूचना मिला की दुष्कर्मी आशीष सिंह पश्चिम बंगाल आसनसोल नामक शहर में रहकर चोरी-छिपे कपड़े का व्यवसाय कर रहा है,जिस पर तोरवा पुलिस द्वारा टीम गठन कर आसनशोल पश्चिम बंगाल भेजा गया।जहां आसनशोल पुलिस के सहयोग से आरोपी आशीष सिंह को गिरफ्तार किया गया है..
उक्त मामले में थाना प्रभारी तोरवा निरीक्षक परिवेश तिवारी,उप निरीक्षक रमेश कुमार शर्मा,सउनि राकेश कुमार टाण्डे ,प्रधान आरक्षक निर्मल घोष केवटआरक्षक सत्य कुमार पाटले,गोविन्द शर्मा एवं थाना स्टाफ तोरवा का सराहनीय योगदान रहा..

रिपोर्ट-प्रकाश झा

Also Read एसडीएम व तहसीलदार ने की पहाड़गांव में अभिवादित विरासत खतौनी वितरण

Related Posts

Follow Us