चार जोड़ों को फिर से मिलाया

चार जोड़ों को फिर से मिलाया

राजगढ़(मध्य प्रदेश):- राजगढ़ जनपद मैं गौरतलब है कि अपराधों के नियंत्रण में जहां एक और जिला पुलिस बल अपनी पूर्ण क्षमता से जुटा हुआ है वही जिला पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में दूसरी ओर परिवार परामर्श केंद्र द्वारा टूटते परिवारों के पुनर्गठन में अपनी महती भूमिका निभा रहे हैं।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस आर दंडोतिया, के

राजगढ़(मध्य प्रदेश):- राजगढ़ जनपद मैं गौरतलब है कि अपराधों के नियंत्रण में जहां एक और जिला पुलिस बल अपनी पूर्ण क्षमता से जुटा हुआ है वही जिला पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में दूसरी ओर परिवार परामर्श केंद्र द्वारा टूटते परिवारों के पुनर्गठन में अपनी महती भूमिका निभा रहे हैं।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस आर दंडोतिया, के मार्गदर्शन में एवं एसडीओपी पूनम थापा, की अगुवाई में जिला पुलिस परिवार परामर्शदाता रश्मि तिवारी, घनश्याम मौर्य, एवं मालिका खांन, रघुनंदन शर्मा, शिवधाम वाले द्वारा परामर्श केंद्र पर बीते दिन को छह पति-पत्नी के आपसी झगड़ों को समझाइश देकर चार पति-पत्नी को एक करने में सफलता प्राप्त की।
1- अफजल पिता शेखू खां, निवासी वार्ड नंबर 13 शुजालपुर रोड पचोर तथा रेशमा बी पिता शब्बीर खां, सियाजी की बाड़ी सुठालिया रोड ब्यावरा।
2- राजूबाई पिता भंवरलाल तंवर, विजयगढ़ थाना राजगढ़ तथा करणसिंह पिता गोरीलाल, विजयगढ़ थाना राजगढ़।
3- उषाबाई पिता मदनलाल सिलावट, गांधीनगर हाल मुकाम लालगढ़ थाना राजगढ़ तथा रामप्रसाद पिता नन्दराम सिलावट, गांधीनगर थाना नजीराबाद भोपाल।
4- विक्रम पिता रामप्रसाद मेघवाल, निवासी कोलूखेड़ी थाना राजगढ़ तथा सुनीता पिता बाबूलाल मेघवाल, निवासी बमोरी थाना तलेन।
गौरतलब है कि इन चारों जोड़ो को पुनः एक बंधन में बांधा गया।
आपको बता दें कि सभी जोड़े दो तीन सालों से सास-बहू के झगड़े, अलग-अलग रहने की मांग, शराब, मारपीट, ज्यादा बोलने आदि कारणों से अलग-अलग रह रहे थे।
परिवार परामर्श समझाइश से एक होकर अपने पारिवारिक लड़ाई झगड़ों को छोड़कर एक दूसरे को माला पहनाकर एवं मिठाई खिलाकर एक साथ रहने को तैयार हुए।
एकजुट हुए सभी जोड़ों को सभी परामर्शदाताओं तथा पुलिस परामर्श आरक्षक सतीश भटनागर, मोहन पिपलोटिया, ने भावी जीवन की मंगलकामनाओं के साथ खुशी खुशी विदा किया।
माही एक मामले मैं सात दिन विचार हेतु समय दिया तथा एक अन्य मामले में अपनी अपनी जिद पर खड़े रहने से माननीय न्यायालय की शरण में जाने की सलाह दी गई।

रिपोर्टर कमल चौहान

Also Read वृद्ध महिला को जातिसूचक गालियां देकर राशन वितरक ने भगाया

Related Posts

Follow Us