ऑनलाइन ठगी के एक मामले में साइबर ठगों के गिरोह का सदस्य आया पुलिस के शिकंजे में

ऑनलाइन ठगी के एक मामले में साइबर ठगों के गिरोह का सदस्य आया पुलिस के शिकंजे में

राजगढ़ (मध्य प्रदेश):- राजगढ़ जनपद थाना ब्यावरा शहरजिला पुलिस अधीक्षक, ने 8 सदस्यों की टीम को किया था रवाना अनेकों लोगों से ठगी को कबूला उत्तर प्रदेश, सहित दिल्ली, और आसपास के कुछ शहरों से देते थे, घटना को अंजाम आगामी पूछताछ के लिए किया जाएगा माननीय न्यायालय में पेश।उल्लेखनीय है कि वर्तमान परिदृश्य में

राजगढ़ (मध्य प्रदेश):- राजगढ़ जनपद थाना ब्यावरा शहर
जिला पुलिस अधीक्षक, ने 8 सदस्यों की टीम को किया था रवाना अनेकों लोगों से ठगी को कबूला उत्तर प्रदेश, सहित दिल्ली, और आसपास के कुछ शहरों से देते थे, घटना को अंजाम आगामी पूछताछ के लिए किया जाएगा माननीय न्यायालय में पेश।
उल्लेखनीय है कि वर्तमान परिदृश्य में बढ़ती तकनीकी के चलते ऑनलाइन ठगी के मामलों में लगातार इजाफा देखा जा रहा है।
साइबर ठगों के गिरोह के सदस्य लोगों को अपनी बातों के जाल में फांसकर गाहे-बगाहे नित नए तरीकों का इस्तेमाल कर उनके खातों से राशि का आहरण करा रहे हैं।
आपको बता दें कि लालच में आकर कुछ लोग पैसों को डबल करने की मीठी बातों में लोगों को उलझा कर उनसे गलत तरीके से पैसे एंठ रहे हैं।
ऐसे ही एक मामले में जिला पुलिस अधीक्षक, ने ब्यावरा शहर थाने सहित जिले की साइबर क्राइम सेल से पुलिस के जवानों की टीम बनाकर उत्तर प्रदेश, सहित दिल्ली, एवं आसपास के शहरों की और रवाना किया था, करीब 20 दिनों की मेहनत के बाद ब्यावरा शहर की पुलिस टीम को साइबर ठगों के गिरोह का एक सदस्य गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त हुई है।
मामला कुछ इस प्रकार है कि साइबर ठगी के एक मामले में फरियादी पूर्व CMHO और वरिष्ठ चिकित्सक डॉ एस एस गुप्ता, ने थाना ब्यावरा शहर में पहुंचकर उनके साथ लाखों रुपए की ठगी के संबंध में आवेदन पत्र दिया था, आवेदन पत्र की जांच पर से मामला साइबर ठगी का पाया जाने पर थाना ब्यावरा शहर मैं अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध अपराध क्रमांक 186/2021 धारा 420, 409 भादवी के तहत पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना में लिया गया।
आपको बता दें कि 8 सदस्यीय टीम को अज्ञात आरोपियों की तलाश हैतू तत्काल रवाना किया गया था, वही थाना प्रभारी ब्यावरा शहर निरीक्षक राजपाल सिंह राठौर, द्वारा उप निरीक्षक रजनीश सिरोठिया, एवं उप निरीक्षक जगदीश गोयल, के नेतृत्व मैं थाना ब्यावरा शहर एवं साइबर सेल से संयुक्त टीम तैयार कर उन्हें आरोपियों की तलाश के लिए शुरुआत दिल्ली, एवं आसपास के शहरों की और भेजा गया 20 दिनों की कड़ी मेहनत के बाद आरोपियों के गिरोह के बारे में पतारसी करते हुए एक आरोपी को उत्तर प्रदेश, के एक शहर से दबोचा गया है।
अपराध में विवेचना के दौरान टीम द्वारा बैंकों में खुलवाए गए खातों के बारे में जानकारी निकालने के दौरान अपराधियों को पुलिस टीम की तफ्तीश की भनक लगने के चलते पुलिस टीम को काफी मशक्कत करना पड़ी निश्चित रूप से साइबर ठगों के गिरोह में बैंक कर्मियों के शामिल होने की संभावना को नकारा नहीं जा सकता।
साइबर ठगों द्वारा फरियादी श्याम सुंदर गुप्ता, को वर्ष 2020 में अपने आप को बैंक अधिकारी बताकर एफ डी लैप्स होने के बारे में एक फोन कॉल किया गया था, जिसमें उन्हें पैसों का नुकसान होने के बारे में बताया जाकर धोखाधड़ी के जरिए उनके खातों में लाखों रुपए की राशि ट्रांसफर कराई गई थी।
अपराध विवेचना के दौरान अज्ञात आरोपियों की पतारसी के प्रयास कर आरोपी सौरभ गुप्ता, उम्र 27 साल निवासी ई- 1102 रिवर हाईटस राजनगर एक्सटेंशन, गाजियाबाद उत्तर प्रदेश, हाल 17/401 कल्याणपुरी 91 दिल्ली को गिरफ्तार किया गया है।
आरोपी से पूछताछ में उसने कई खुलासे किए हैं, आरोपी के बताए अनुसार साइबर ठगों की इस गिरोह में 6 से 7 लोगों के होने की संभावना है परंतु इससे अधिक होने की बात को भी नकारा नहीं जा सकता।
आरोपी ने पूछताछ के दौरान कई नामों का खुलासा किया है अधिकतर आरोपी दिल्ली, गाजियाबाद एवं आसपास के शहरों के हैं, जिनकी तलाश सरगर्मी से की जा रही है, वही जिन खातों में राशि का आहरण कराया गया था, उनके बारे में भी विस्तृत जानकारी बैंकों के माध्यम से जुटाई जा रही है।
उपरोक्त मामले में आरोपी की गिरफ्तारी के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनकामना प्रसाद, एवं एसडीओपी ब्यावरा किरण अहिरवार, के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी निरीक्षक राजपाल सिंह राठौर, एवं टीम में शामिल उनि. रजनीश सिरोठिया, उपनिरीक्षक जगदीश गोयल, उप निरीक्षक लीला शंकर भाटी, प्रधान आरक्षक देवीलाल दांगी, आरक्षक बलवीर मीणा, आरक्षक रवि मौर्य, आरक्षक श्याम रघुवंशी, आरक्षक योगेंद्र, आरक्षक संदीप, आरक्षक चंदन, आरक्षक चंद्रेश, एवं साइबर सेल राजगढ़ से शशांक सिंह यादव, एवं साइबर टीम से प्राप्त तकनीकी रूप से सहायता के जरिए एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है, वहीं अन्य आरोपियों की तलाश के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

रिपोर्ट कमल चौहान

Also Read बढ़ती महंगाई के विरोध में कांग्रेस ने किया धरना  प्रदर्शन 

Related Posts

Follow Us