आधे घंटे में गायब हो गए सिंधु नदी पर बने तीन पुल

आधे घंटे में गायब हो गए सिंधु नदी पर बने तीन पुल

दतिया : कहते हैं कि कुदरत का कहर कभी तो खूबसूरती में चार चांद लगा देता है तो कभी कुदरत का कहर सर बर्बाद कर देता है। इन दिनों बारिश का मौसम है और नदियां उफान पर हैं। तटीय क्षेत्रों में हाई अलर्ट जारी है। तेज बहाव के कहर का मंजर देखने को मिला मध्य

दतिया : कहते हैं कि कुदरत का कहर कभी तो खूबसूरती में चार चांद लगा देता है तो कभी कुदरत का कहर सर बर्बाद कर देता है। इन दिनों बारिश का मौसम है और नदियां उफान पर हैं। तटीय क्षेत्रों में हाई अलर्ट जारी है। तेज बहाव के कहर का मंजर देखने को मिला मध्य प्रदेश के दतिया जनपद के सुप्रसिद्ध मंदिर माता रतनगढ़ मंदिर के समीप।

मंदिर से कुछ ही दूरी पर सिंधु नदी है। सिंधु नदी में आई बाढ़ ने नदी पर बने पुल को ही तहस-नहस कर दिया। यही नहीं सिंधु नदी पर बने लाॅच पिछोर का पुल भी इस बहाव में बह गया। सबसे बड़ी बात तो यह थी कि मात्र आधे घंटे में ही रतनगढ़ माता मंदिर एवं लॉच पिछोर का पुल तेज बहाव में बह गए। आपको बता दें कि नदी के उस पार बने माता रतनगढ़ मंदिर पर जाने के लिए एक बड़ा पुल बनाया गया था। लेकिन नदी पानी का बहाव इतना तेज था कि कुछ ही देर में पुल टूट कर लहरों में गायब हो गया। तो वही नदी में बढ़ रहे जलस्तर को देखते हुए नदी के किनारे बसे गांव में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है साथ ही साथ लोगों में दहशत का माहौल भी है।

Also Read डीएम की अध्यक्षता में अवैध खनन पर रोक लगाने के खनन टास्क फोर्स की हुई बैठक

मात्र आधे घंटे में बाढ़ की भेंट चढ़े 3 पुल

तेज बहाव के कारण सिंधु नदी पर माता रतनगढ़ मंदिर का पुल एवं लॉच गांव का पुल के साथ-साथ इसी के समीप बना एक और पुल महज आधे घंटे के अंतराल में एक-एक कर नदी में गायब हो गए। हालांकि गनीमत यह रही नदी में तेज बहाव को देखते हुए प्रशासन द्वारा इन पुलों पर आवाजाही पर रोक लगा दी गई थी। लेकिन बाढ़ एवं पानी का भाव कम होने के बाद लोगों का इधर से उधर आने जाने में काफी दिक्कत का सामना करना पड़ेगा।

रिपोर्ट : भूपेंद्र सिंह

Related Posts

Follow Us