आपत्तिजनक पोस्ट अपलोड करने वाला गिरफ्तार पुलिसकर्मी बर्खास्त

आपत्तिजनक पोस्ट अपलोड करने वाला गिरफ्तार पुलिसकर्मी बर्खास्त

बिहार में बक्सर जिले के नावानगर साइबर सेनानी व्हाट्सएप ग्रुप में अपात्तिजनक वीडियो अपलोड करने के आरोपी एक पुलिसकर्मी को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। पुलिस सूत्रों ने आज यहां बताया कि रविवार की सुबह सोनवर्षा के रहने वाले शम्भू पटेल ने सोनवर्षा पुलिस आउट पोस्ट द्वारा बनाए गए साइबर सेनानी व्हाट्सएप ग्रुप

बिहार में बक्सर जिले के नावानगर साइबर सेनानी व्हाट्सएप ग्रुप में अपात्तिजनक वीडियो अपलोड करने के आरोपी एक पुलिसकर्मी को सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। पुलिस सूत्रों ने आज यहां बताया कि रविवार की सुबह सोनवर्षा के रहने वाले शम्भू पटेल ने सोनवर्षा पुलिस आउट पोस्ट द्वारा बनाए गए साइबर सेनानी व्हाट्सएप ग्रुप में एक अपत्तिजनक वीडियो अपलोड कर दी थी। इसके बाद नावानगर थाने के जमादार संतोष कुमार ने वीडियो को नावानगर थाना द्वारा बनाए गए सेनानी व्हाट्सएप ग्रुप में भी अपलोड कर दिया। जब इस बात की सूचना पुलिस अधीक्षक उपेंद्रनाथ वर्मा को मिली तब उन्होंने नावानगर थानाध्यक्ष संजय कुमार को जमादार संतोष कुमार और युवक शम्भू पटेल पर मामला दर्ज करने का आदेश दिया।

सूत्रों ने बताया कि पुलिस अधीक्षक के निर्देश के आलोक में संतोष कुमार और शंभू पटेल पर मामला दर्ज करने के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था और न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत करते हुए उन्हें जेल भेज दिया गया। इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय ने जमादार संतोष कुमार को सेवा से बर्खास्त कर दिया
है।

Also Read जलजीवन हरियाली के तहत वन विभाग द्वारा लगाया गया 7 दिवसीय पौधा विक्रय केंद्र

पुलिस अधीक्षक श्री वर्मा ने बताया कि यदि कोई व्यक्ति किसी व्हाट्सएप ग्रुप अथवा किसी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कोई आपत्तिजनक वीडियो या कोई पोस्ट अपलोड करता है तो उसके खिलाफ पुलिस साइबर अपराध मामले के तहत कड़ी कार्रवाई करेगी।

गौरतलब है कि मुंगेर जिले में जमालपुर थाना क्षेत्र के केशोपुर निवासी एक पत्रकार को पुलिस ने वेब पोर्टल पर भागलपुर जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण से एक व्यक्ति की मौत की झूठी खबर प्रकाशित करने के आरोप में गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया।

Follow Us