सीपीआई का बीजेपी के वर्चुअल रैली के खिलाफ विश्वासघात- धिक्कार दिवस मनाया

सीपीआई का बीजेपी के वर्चुअल रैली के खिलाफ विश्वासघात- धिक्कार दिवस मनाया

मधुबनी (बिहार) :- जिला कार्यालय में सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करते हुए विश्वासघात-धिक्कार दिवस मनाया गया । पार्टी कार्यालय में आयोजित धरना को संबोधित करते जिला मंत्री मिथिलेश झा ने कहा आपदा के समय में केंद्र एवं बिहार की सरकार वर्चुअल अर्थात आभासी रैली का आयोजन कर जनता के साथ मजाक कर रही है। राजनीतिक

मधुबनी (बिहार) :- जिला कार्यालय में सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करते हुए विश्वासघात-धिक्कार दिवस मनाया गया । पार्टी कार्यालय में आयोजित धरना को संबोधित करते जिला मंत्री मिथिलेश झा ने कहा आपदा के समय में केंद्र एवं बिहार की सरकार वर्चुअल अर्थात आभासी रैली का आयोजन कर  जनता के साथ मजाक कर रही है। राजनीतिक रोटी सेंकने का काम इनका पूर्ण इतिहास रहा है । देश में आर्थिक तंगी है । लोग बेरोजगार हो रहे है ।

ग्रामीण आबादी में 85 एवं शहरी में 70 प्रतिशत जनता कोरोनो संकट के पहले से ही अभावग्रस्त हो चुकी है । लगभग तीन महीनों की आपदा का असर जनजीवन को अस्त व्यस्त क्र दिया है । वैसी परिस्थिति में आम जनता को राहत पहुचाने के बजाय सरकार आभासी रैली का आयोजन कर जनता के जले घाव पर नमक छिड़क रही है । सीपीआई अपने सभी वामदलों के साथ पूरे बिहार में उनकी इस वर्चुअल रैली का विरोध करती है।

Also Read ज़मीनी विवाद में चाचा-भतीजा में हुई मारपीट,माँ-बेटा जख्मी

और आज विश्वासघात -धिक्कार दिवस मनाकर सरकार से मांग करती है कि बिहार की जनता को आभासी रैली नही रोजगार की आवश्यकता है । दूसरी तरफ राज्यपरिषद सदस्या राजश्री किरण ने कहा कि कोरोनॉ संकट के कारण  ,आयकर दाताओं को छोड़कर सभी परिवारों को 7500 रु  एवं 15 किलो अनाज प्रति व्यक्ति प्रतिमाह 6 महीने तक सरकार देने की गारेंटी करें ।

सीपीआई सभी किसानों का कर्ज माफी , निजी विद्यालयों के कोरोनॉ संकट के कारण विद्यालय बन्द  अवधि का फ़ीस सरकार द्वरा भुगतान करने , रोजगार नही मिलने तक बेरोजगारी भत्ता देने , मनरेगा में 200 दिन कार्य दिवस करने सहित बढ़ते आपराधिक घटनाओं पर लगाम लगाने की मांग करती है । जनवितरण प्रणाली में अनाज वितरण में हो रहे अनियमिता के खिलाफ सीपीआई हरेक प्रखण्ड कार्यालयों पर आंदोलन करेगी ।

सरकार सभी को मुफ्त अनाज देने की बात करती है परंतु विक्रेता पूर्व के कार्डधारियों के अलावा किसी अनाज नही दे रहे है । गरीबों के लिए तमाम योजनाओं में भ्रस्टाचार व्याप्त है जिसे रोकने में सरकार एवं पदाधिकारी विफल है । मधुबनी जिला में सीपीआई का मजबूत संघर्ष का इतिहास है ।

कार्यक्रम में पार्टी राष्ट्रीय परिषद सदस्या राजश्रीकिरण , राज्य परिषद सदस्य अरविन्द प्रसाद ,लक्ष्मण चौधरी , जिला परिषद सदस्य मोतीलाल शर्मा ,ओम प्रकाश कापड़ी  ,सत्यनारायण राय , मो फारुख ,मो कलाम ,मो दाऊद एवम अन्य कई लोग उपस्थित थे।

रिपोर्टर – सोहन कुमार

Follow Us