विवाह की आयु निकलती जा रही है ? जानें कब है विवाह का योग

विवाह की आयु निकलती जा रही है ? जानें कब है विवाह का योग

विवाह/शादी होने की आयु निकलती जा रही है तो कब तक होगी शादी या फिर होगी या नही और क्या कोई उपाय करने से शादी होगी  और कब तक हो जाएगी शादी ,कैसा रहेगा वैवाहिक जीवन आदि आज इसी बारे में बात करेंगे या करते है। 

 

शादी/विवाह एक ऐसा सम्बन्ध जिससे जीवन मे आगे बढ़ने का रास्ता मिलता है। जन्मकुंडली/नवमांश कुंडली मे 7वॉ भाव विवाह का है तो पुरुषों की कुंडली मे शुक्र विवाह का ग्रह तो स्त्रियों की कुंडली मे गुरु विवाह का ग्रह है। अब 7वा भाव और इस भाव स्वामी पर ज्यादा ही क्रूर या पाप ग्रहों का प्रभाव हो तब विवाह नही हो पाता है उम्र निकलती जाती है जबकि लेकिन यदि विवाह सम्बन्धी ग्रहो गुरु शुक्र और शुभ ग्रहों चन्द्र बुध का भी प्रभाव कही न कही 7वे भाव या 7वे भाव स्वामी पर है तब विवाह जरूर हो होगा चाहे कितनी भी उम्र निकल जाए होगा जरूर भी उम्र ज्यादा हो जाने पर विवाह सम्बन्धी ग्रहो की दशा और ग्रहो का गोचर आएगा विवाह हो जाएगा चाहे 40 साल में ही क्यों न हो बस विवाह सम्बन्धी योग होने जरूरी है उपरोक्त स्थिति अनुसार।।                                                                 

अब कुछ उदाहरणों से समझते है कैसे विवाह में विलंब होने पर भी क्या विवाह हो पायेगा और क्यों शादी होने में विलंब हो रहा है और कब तक विलम्ब होगा ,और कब तक हो जाएगी शादी साथ ही कैसा रहेगा वैवाहिक जीवन आदि?                    

#कुंडली_उदाहरण_अनुसार_वृष_लग्न1:- वृष लग्न में 7वे भाव(विवाह) स्वामी मंगल है अब मंगल पर विवाह सम्बन्धी ग्रहो गुरु या शुक्र या चन्द्र बुध का प्रभाव है और मंगल अच्छे भाव मे बैठा है साथ ही शुक्र/गुरु बलवान है तब विवाह जरूर हो जाएगा, कब जैसे ही अब आयु ज्यादा होने पर विवाह सम्बन्धी ग्रहदशा आएगी।।                                           

#कुंडली_उदाहरण_अनुसार_कन्या_लग्न2:- कन्या लग्न में विवाह स्वामी सप्तमेश गुरु है अब गुरु यहाँ पाप ग्रहों के प्रभाव में है तब शादी बहुत देर से होगी लेकिन गुरु 7वे भाव मे ही है या सातवे भाव को देख रहा है या फिर गुरु , शुक्र चन्द्र बुध में से किसी के भी साथ सम्बन्ध में है शुभ स्थान में कुंडली के तब विवाह 40 के आस पास तक आयु जाने पर तब भी हो जाएगा, उपाय करने से जल्दी हो जाएगा।।                                                     

#कुंडली_उदाहरण_अनुसार_मीन_लग्न3:- मीन लग्न में विवाह स्वामी बुध कमजोर है या पाप ग्रहों के प्रभाव में है तब विवाह बहुत देर तक जाएगा और विवाह सम्बन्धी ग्रहो का प्रभाव न हुआ तब नही भी होगा जबकि बुध पर विवाह सम्बन्धी ग्रहो गुरु शुक्र चन्द्र इनमे से किसी का भी संबद्घ है तब विवाह जरूर हो जाएगा।।                                                

विवाह होने के योग होने पर भी यदि शादी में बहुत देर होती जा रही है तब विवाह सम्बन्धी उपाय करके विवाह हो जल्दी हो जाएगा।।

 

. Astro Usha Verma

Follow Us