जेवर एयरपोर्ट की 'रत्न' की तरह तरासेगा टाटा ग्रुप

जेवर एयरपोर्ट की 'रत्न' की तरह तरासेगा टाटा ग्रुप

देश के बहुप्रतिक्षित अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे जेवर एयरपोर्ट के निर्माण की जिम्मेदारी टाटा समूह को मिल गई है। यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड (YIAPL) से प्राप्त जानकारी के आधार पर टाटा ग्रुप नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (NIA) में टर्मिनल, एक रनवे और अन्य सहायक भवनों का निर्माण करेगा। 

काॅन्ट्रैक्ट में नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर रनवे, टर्मिनलों, सड़कों, उपयोगिताओं, एयरसाइड इंफ्रास्ट्रक्चर और अन्य सहायक भवनों का निर्माण शामिल है। गौरतलब है कि नोएडा हवाई अड्डे का पहला चरण अगले दो वर्षों में तैयार होने की उम्मीद है। इससे पहले टाटा समूह प्रयागराज (इलाहाबाद) हवाई अड्डा टर्मिनल का निर्माण कर चुका है। 

पर्यावरण के अनूकूल होगा हवाई अड्डा

आज के समय में ग्लोबल वार्मिंग और साल दर साल बढ़ रहे तापमान ने पूरी दुनिया में माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी है। ऐसे में टाटा समूह एयरपोर्ट के निर्माण में पर्यावरण की भी ख्याल रखेगा। 

टाटा प्रोजेक्ट्स के सीईओ और एमडी-नामित विनायक ने कहा,  हमें जेवर में ग्रीनफील्ड नोएडा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए ईपीसी कार्य सौंपे जाने पर गर्व है। टाटा प्रोजेक्ट्स भारत के सबसे उन्नत और पर्यावरण के अनुकूल हवाई अड्डे को समय पर वितरित करने के लिए वाईआईएपीएल के साथ मिलकर काम करेगा। हम गुणवत्ता, सुरक्षा और स्थिरता के मानकों को पूरा करते हुए इसके निर्माण में नवीनतम तकनीकों को तैनात करेंगे।

 

Related Posts

Follow Us