कानपुर: धार्मिक हिंसा मामले में 36 उपद्रवी गिरफ़्तार, मास्टरमाइंड जफर हयात की तलाश तेज

कानपुर: धार्मिक हिंसा मामले में 36 उपद्रवी गिरफ़्तार,  मास्टरमाइंड जफर हयात की तलाश तेज

कानपुर में शुक्रवार को जुमे की नमाज़ के बाद भड़की हिंसा मामले में पुलिस ने अभी तक 36 उपद्रवियों को गिफ्तार किया है। हिंसा मामले में योगी सरकार सख़्त है और सीसीटीवी फुटेज से उपद्रवियों की पहचान की जा रही है। हिंसा मामले में 3 FIR दर्ज की गयी हैं। 40 नामजद व 1000 अज्ञात पर FIR दर्ज की गई है। इलाके में शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए इलाके में PAC की 12 कंपनियां तैनात की गई है। वहीं आरोपियों के घरों पर लगातार दी जा रही है दबिश। हिंसा मामले का मास्टरमाइंड जफर हयात हाशमी की तलाश तेज कर दी गई है। 

गौरतलब है कि शुक्रवार को शहर के बेकनगंज सहित अन्य इलाकों में जुमे की नमाज के बाद मुस्लिम समुदाय द्वारा ज़बरदस्ती दुकानें बंद कराने को लेकर हिंसा भड़की थी | इससे एक दिन पहले मुस्लिम समुदाय द्वारा शुक्रवार को दुकानें बंद रखने के पोस्टर शटरों पर लगाए गए थे | दुकानें बंद होने का हिन्दू दुकानदारों द्वारा विरोध किया गया | जिसके बाद पत्थरबाजी और हिंसा की घटना हुई | हालांकि जिलाधिकारी नेहा शर्मा और पुलिस कमिश्नर विजय मीणा द्वारा मौके पर पहुंचकर हालात का जायज़ा लिया गया और काफी हद तक हिंसा काबू की गई | 

वरिष्ठ अधिकारीयों के पहुंचने के बाद हिंसा तो शांत हो गई लेकिन इलाके में स्थिति अभी भी तनावपूर्ण बानी हुई है | इलाके में रात भर पुलिस का गश्ती अभियान जारी रहा और उपद्रवियों की पहचान भी की गई | गौरतलब है कि कानपुर हिंसा के मामले में योगी सरकार पहले ही हिंसा में शामिल लोगों पर गैंगेस्टर एक्ट लगाने और उनकी सम्पत्तियों पर बुलडोज़र चलवाने का एलान कर चुकी है। 

स्थगित किया गया हनुमान चालीसा का पाठ

इलाके में शांति बनाये रखने के लिए बजरंगदल ने परेड चौराहे पर होने वाले हनुमान चालीसा के पाठ को स्थगित कर दिया है। इससे पहले बजरंग दल के लोगों ने परेड चौराहे पर हनुमान चालीसा पढ़ने का आव्हान किया था। माहौल न बिगड़े इसके लिए हनुमान चालीसा नहीं पढ़ी जायेगी

Related Posts

Follow Us