गैंगरेप : प्रेमी के प्यार में पागल मां ने नाबालिग बेटी को भेड़ियों के हाथों में सौंपा

गैंगरेप : प्रेमी के प्यार में पागल मां ने नाबालिग बेटी को भेड़ियों के हाथों में सौंपा

बलरामपुर : बच्चे सबसे ज्यादा विश्वास करते हैं तो अपनी मां और पिता पर करते हैं लेकिन एक कलयुगी मां का ऐसा कारनामा सामने आया है जिसे जिसने भी सुना वह हैरान रह गया। मामला उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जनपद का है जहां पर एक कलयुगी मां ने अपनी ही बेटी की आबरू सिर्फ इसलिए दूसरों के हवाले कर दी क्योंकि वह उसके और उसके प्रेमी के प्रेम संबंधो में रोड़ा बन रही थी। आपको बता दें कि इस घटना का खुलासा तब हुआ जब पीड़िता ने अपनी आपबीती अपनी चाची को बताएं आरोप है कि घटना के 17 दिन बीत जाने के बाद जाकर मामला दर्ज हुआ है।

मामला बलरामपुर जनपद के हरैया थाना क्षेत्र का है जहां पर नाबालिग किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाया गया है पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने 4 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

किशोरी की आपबीती सुन हर कोई सहमा

नाबालिग किशोरी ने जब आपबीती सुनाई तो जिसने भी सुना वैसे हम गया आपको बता दें कि कलयुगी मां पर नाबालिक ने गंभीर आरोप लगाते हुए। कहां है कि पिता की मृत्यु के बाद वो अपने मां के साथ रहती है। उसकी मां का अवैध संबंध एक व्यक्ति से है। उसने दोनों को कई बार आपत्तिजनक हालत में भी देखा है। जब किशोरी ने इसका विरोध किया तो उसे डराया धमकाया और मारपीट कर उसका मुंह बंद करा दिया गया। किशोरी का आरोप है कि बीते 20 मई को उसकी मां का प्रेमी दो अन्य लोगों के साथ उसके घर पहुंचा। तब किशोरी की मां ने उसे चाय बनाने के लिए रसोई में भेजा। जिसके बाद उसकी मां ने घर के बाहर जाकर दरवाजा बंद कर दिया। जिसके बाद तीनों व्यक्तियों ने किशोरी को बारी-बारी से हवस का शिकार बनाया।

बता दें कि बच्ची के सामने मां का घिनौना चेहरा तब आया, जब उसकी मां ने आरोपियों में से एक से उसकी शादी करवा देने की बात कही. पीड़िता ने इस मामले की जानकारी अपनी चाची को दी.  जिसके बाद मामले की लिखित शिकायत 25 मई को हर्रैया थाने पर की गई. थाने में शिकायत के बाद जब पीड़िता को न्याय नहीं मिला, तब उसने 31 मई को लिखित शिकायत पुलिस अधीक्षक से की है। अब देखना यह होगा कि पीड़िता को आखिर कब तक न्याय मिलता है।

 

 

Recent News

Related Posts

Follow Us