प्रधानमंत्री मातृत्व शिविर में गर्भवती माताओं की हुई जांच, सिविल सर्जन और एसडीएम ने किया निरीक्षण।

प्रधानमंत्री मातृत्व शिविर में गर्भवती माताओं की हुई जांच, सिविल सर्जन और एसडीएम ने किया निरीक्षण।

त्रिवेणीगंज(सुपौल) अनुमंडलीय अस्पताल में गुरुवार को प्रधानमंत्री मातृत्व जांच शिविर का आयोजन किया गया। अनुमंडलीय अस्पताल के प्रभारी उपाधीक्षक डॉ आरपी सिन्हा के नेतृत्व में आयोजित शिविर में प्रखंड क्षेत्र के शाम तक करीब पांच सौ गर्भवती महिलाओं की जांच की गई। शिविर का निरीक्षण सिविल सर्जन डॉ इंद्रजीत प्रसाद एवं अनुमंडल पदाधिकारी एस जेड हसन ने बारीकी से किया। 

इस दौरान गर्भावस्था के दौरान होने वाले विभिन्न रोगों से बचाव तथा रोगग्रस्त माताओं को गर्भावस्था के इलाज के लिए चिकित्सक के संपर्क में रहने की सलाह दी गई। शिविर में गर्भवती माताओं का हीमोग्लोबिन, ब्लड शुगर, ब्लड ग्रुप, एचआईवी, विडाल, यूरिन, वीडीआरएल, कोरोना समेत गर्भस्त शिशु की गतिविधि को देखा गया। चिकित्सकों ने गर्भवती महिलाओं को जांचोपरांत हरी सब्जियां, फल, अंकुरित अनाज के अलावा अन्य पौष्टिक आहार लेने की सलाह दी और आवश्यक दवाएं का वितरण भी किया गया। मौके पर डॉ सुमन कुमारी डॉक्टर कृतिका किरण डॉक्टर जीनत परवीन डाक्टर उमेश मंडल 

Also Read ज़ीरो ड्रग्स अभियान के तहत तीन अभियुक्त गिरफ्तार,6 किलोग्राम गांजा बरामद

 एकाउंटेड सुभाष सिंह, परिवार कल्याण सलाहकार इश्तियाक अहमद, जीएनएम सुप्रिया, पूनम, पुष्पा रजनी, अन्नपूर्णा, सानिया समेत अन्य स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित थे। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान से चिकित्सक को अनुपस्थित रहने पर सिविल सर्जन को प्रभारी उपाधीक्षक ने लिखा पत्र

अनुमंडलीय अस्पताल में आयोजित प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान से अनुपस्थित रहने पर प्रभारी उपाधीक्षक ने सिविल सर्जन को गुरुवार को पत्र लिखा। जिसमें कहा है कि डॉ इंद्रदेव यादव को प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान में चिकित्सीय जांच करने हेतु निर्देशित किया गया था। अनुमंडल पदाधिकारी त्रिवेणीगंज के औचक निरीक्षण के क्रम में डॉ इंद्रदेव यादव चिकित्सा पदाधिकारी अनुमंडलीय अस्पताल अपने कर्तव्य से अनुपस्थित थे। अनुमंडल पदाधिकारी के द्वारा काफी नाराजगी व्यक्त की गई और इसकी सूचना सिविल सर्जन को मोबाइल के माध्यम से भी दिया गया। इतने महत्वपूर्ण काम से अनुपस्थित रहना कार्य के प्रति लापरवाही एवं मनमाने पन को दर्शाता है। उक्त कृत हेतु डॉ इंद्रदेव यादव पर अपने स्तर से उचित कार्यवाही करने की कृपा की जाए

रिपोर्ट संतोष कुमार सुपौल

Related Posts

Follow Us