बारिस बूंदा बूंदी क्या हुई आठ घंटे बिजली आपूर्ति रही बाधित

बारिस बूंदा बूंदी क्या हुई आठ घंटे बिजली आपूर्ति रही बाधित

(सुपौल) त्रिवेणीगंज तेज हवा और मूसलाधार बारिश तो दूर हल्की बूंदा बूंदी में बिजली आपूर्ति बाधित होना स्थायी समस्या बन गई है। हालांकि बिजली विभाग सुधार की दावे तो करती है। लेकिन लोगों को इससे निजात नहीं मिल पा रही है। शुक्रवार की रात प्रखंड क्षेत्र में हल्की बूंदाबांदी क्या हुई विद्युत व्यवस्था चरमरा गई। साथ ही करीब आठ घंटे बिजली आपूर्ति बाधित रही। रात्रि करीब  ग्यारह बजे से गायब रही बिजली व्यवस्था 7 घंटे से भी अधिक समय उपरांत सुबह साढ़े छह बजे पुनर्बहाल हो सका। जिससे लोगों को उमस भरी गर्मी से परेशानी का सामना करना पड़ा। 

यही नही बरसात के दिनों में होने वाली छोटी-मोटी खराबी भी तुरंत ठीक नहीं हो पाती है। बिजली विभाग व्यवस्था के प्रति उदासीन बने हुए है। हल्की बारिश के बाद बिजली विभाग के द्वारा सात से आठ घंटा बिजली बाधित की जा रही है। आने वाले समय मे भारी बारिश होने की स्थिति में क्षेत्र के लोगों को और ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ेगा। सरकार के 24 घंटा बिजली आपूर्ति के दावा को मामूली खराबी को नजरअंदाज कर सरकारी तंत्र फेल साबित करने पर तुला हुआ है। बिजली आपूर्ति बाधित रहने से उमस भड़ी गर्मी में लोगों को परेशान होना पड़ रहा है। बिजली विभाग के कर्मियो की कार्यशैली को लेकर लोगो में काफी नाराजगी है। जबकि इस समस्यओं को लेकर एक सप्ताह पहले अनुमंडल पदाधिकारी एस जेड हसन ने बिजली विभाग के पदाधिकारी व मानव बलों के साथ बैठक आयोजित कर कई आवश्यक दिशा - निर्देश दिए थे। लेकिन इसके बावजूद भी बिजली व्यवस्था पटरी पर नही आ पाई है। कनीय विधुत अभियंता चंदन कुमार दास ने बताया कि जागुर स्थित आईटीआई कॉलेज के आगे 33 केवी लाइन का इंसुलेटर ब्रस्ट कर गया। जिसके कारण बिजली आपूर्ति बाधित रही।

Also Read मेडिकल कालेज में बड़ा हादसा, बिजली बंद होने से 4 नवजातों की मौत

रिपोर्ट: संतोष कुमार सुपौल

Related Posts

Follow Us