विभिन्न कार्यालयों में बिचौलियों की विरुद्ध की गई छापेमारी, भनक लगते ही फरार हुए बिचौलियों

विभिन्न कार्यालयों में बिचौलियों की विरुद्ध की गई छापेमारी, भनक लगते ही फरार हुए बिचौलियों

सुपौल त्रिवेणीगंज प्रखंड मुख्यालय में उस समय लोगों में हड़कंप मच गया। जब प्रखंड  अंचल मनरेगा पंचायती राज  आरटीपीएस एवं तहसील कचहरी कार्यालयों में बिचौलियों की धर पकड़ के लिए सोमवार को अपर अनुमंडल पदाधिकारी प्रमोद कुमार के नेतृत्व में औचक छापेमारी की गई। करीब एक घंटे तक हुई इस कार्यवाई से विभिन्न कार्यालय में मौजूद कर्मियों व आमलोगों में हलचल मचा रहा। छापेमारी में एएसडीएम के अलावे त्रिवेणीगंज सर्किल इंस्पेक्टर सत्यनारायण राय एएसआई सुधीर प्रसाद पुलिस बल शामिल था। अचानक पहुंचे इन अधिकारियों ने पुलिस बल के साथ पहले प्रखंड व अंचल कार्यालय की घेराबंदी की। साथ ही आरटीपीएस काउंटर पर उपस्थित लोगों से पूछताछ और जांच पड़ताल की गई। हालांकि छापेमारी में किसी की गिरफ्तारी नही हो पाई। इसकी भनक जैसे ही बिचौलियों को लगी तो संबंधित कार्यालय वे नौ दो ग्यारह हो गए। इस दौरान एएसडीएम ने संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को फालतू लोगों को चैम्बर नही आने देने की बात कही। साथ ही ड्यूटी पर मौजूद सुरक्षा गार्ड को भी सख्त हिदायत दी। छापेमारी में सबसे दिलचस्प बात यह रही थी तहसील कचहरी बंद पाया गया और कचहरी के काम से आए हुए लोग वहां मौजूद पाए गए। जिससे पदाधिकारियों को वहाँ से बैरंग लौटना पड़ा। अपर अनुमंडल पदाधिकारी प्रमोद कुमार ने कहा कि सुपौल जिलाधिकारी और त्रिवेणीगंज अनुमंडल पदाधिकारी के निर्देशानुसार विभिन्न कार्यालयों में औचक छापेमारी की गई। कुछ बिचौलियों के खिलाफ शिकायत मिली थी। वहीं कचहरी बंद पाए जाने के सवाल पर एएसडीएम ने कहा कि अंचल अधिकारी को स्पष्टीकरण पूछा जाएगा

रिपोर्ट: संतोष कुमार सुपौल

Also Read BIS Care ऐप में अपलोड करना होगा इनवाइस नंबर और उपभोक्ता का नाम, विरोध के आसार

Recent News

Related Posts

Follow Us