पुलिस ने सुलझाई मैनेजर हत्याकांड की गुत्थी , एक शातिर गिरफ्तार , दो की तलाश में जुटी

पुलिस ने सुलझाई मैनेजर हत्याकांड की गुत्थी , एक शातिर गिरफ्तार , दो की तलाश में जुटी

उरई (जालौन)। एट थाना क्षेत्र में कुएं में मिले मैनेजर के शव की गुत्थी को आखिरकार पुलिस एसओजी और सर्विलांस  सेल की टीमों ने मिलकर सुलझा ही लिया। गिरफ्तार हुए अभियुक्त के पास से पुलिस को एक लाइसेंसी रिवाल्वर, लूटे गए माल में से एक किलो सोना, मोटरसाइकिल, रुपए ओर मोबाइल बरामद कर गिरफ्तार  किया। इसके बाद पुलिस पूछताछ करने के बाद आरोपी को न्यायालय में पेश किया और उसे जेल भेज दिया। मामले का खुलासा एएसपी असीम चौधरी ने किया।
अपर एसपी असीम चौधरी ने पुलिस लाइन सभागार में हत्या के मामले का खुलासा करते हुए बताया कि बीती 14 जुलाई को एक व्यापारी उरई आया था। जिसके 2 दिन बाद व्यापारियों से मिलवाने के बाद उसकी हत्या करके उसको कुएं में फेंक दिया गया था। जब उसके मालिक आमिर हुसैन पुत्र नसीरूल हुसैन निवासी होरीपोल थाना होरीपोल जनपद हुगली कोलकाता ( पश्चिम बंगाल) ने कई बार अपने मैनेजर को फोन लगाया जिस पर उसका फोन न लगने पर उसके मालिक आमिर हुसैन ने बीती 21 जुलाई को इस मामले की रिपोर्ट एट थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद उन्होंने एट थाना पुलिस एवं एसओजी व सर्विलांस की संयुक्त टीम को इसकी गुत्थी सुलझाने में लगाया था।

जिसके चलते यह टीम बीती 23 जुलाई की देर शाम एट क्षेत्र में अपराध एवं संदिग्ध व्यक्तियों, लुटेरों, वाहन चोरों की चैकिंग कर रही थी। तभी उन्हें मुखबिर से सूचना मिली कि एक संदिग्ध व्यक्ति धगवा कला रोड पर जा रहा है। जिसपर टीम मौके पर पहुंची और रेलवे क्रॉसिंग के पास से देर शाम 8:00 बजे अभियुक्त आशीष सोनी पुत्र स्वर्गीय राजकुमार निवासी सर्राफा बाजार कृष्णा नगर उरई को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से पुलिस ने 1 किलो पीली धातु सोना जिसकी कीमत लगभग 52 लाख रुपए, 50 हजार रुपये, एक रिवाल्वर लाइसेंस, 10 कारतूस, एक मोटरसाइकिल एक मोबाइल फोन बरामद किया। जब पुलिस ने उससे कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया की वह ठाकुरदास वर्मा व उसके एक साथी जिसको वह नहीं पहचानता  है। उसके साथ मिलकर मैनेजर समिन मलिक पुत्र आयोतान हक मलिक निवासी दसघरा ग्राम रामकृष्णपुरा जनपद बर्द्धमान (पश्चिम बंगाल) को मिलकर मार डाला और एक बोरी में बंद करके उसके शव को कुएं में फेंक दिया। और वहां से भाग गया था इसके बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया।

भागे गए अपराधियों और 200 ग्राम सोने की तलाश में जुटी है पुलिस 

एसपी असीम चौधरी ने बताया की पुलिस ने जो सोना बरामद किया है उसमें 200 ग्राम सोना काम है और जो दो अपराधी भागे हुए हैं उनकी तलाश में टीमों को लगाया गया है जल्द ही दोनों अपराधी और सोने की बरामदगी की जाएगी।

गिरफ्तार करने वाली टीम में यह रहे शामिल
एट थाना प्रभारी प्रदीप कुमार, एसओजी प्रभारी अर्जुन सिंह, प्रभारी सर्विलांस सेल योगेश पाठक, उप निरीक्षक राजेश सिंह, मंजूर अंसारी, निरंजन सिंह, श्री राम प्रजापति, अश्वनी, राजीव कुमार, रवि भदौरिया, शैलेंद्र चौहान, गौरव बाजपेई, जगदीश चंद्र, कर्मवीर सिंह, विनय प्रताप, सुशांत मिश्रा साइबर सेल, अरविंद कुमार, थाना एक धर्मपाल सिंह, और चालक यादवेंद्र सिंह टीम शामिल रहे।

रिपोर्ट :: दीपू द्विवेदी

Related Posts

Follow Us