उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने किया अन्नपूर्णा भवन का शुभारंभ

उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने किया अन्नपूर्णा भवन का शुभारंभ

वृन्दावन । जगत के पालनहार भगवान श्री कृष्ण का जन्मोत्सव पूरे विश्व भर में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। वही कान्हा की नगरी श्री धाम वृंदावन में ब्रज वासियों के द्वारा अपने लाला का जन्मोत्सव बड़े ही धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। दूर-दराज से श्रद्धालु मथुरा वृंदावन में ठाकुर श्री कृष्ण के जन्मोत्सव के साक्षी बनने के लिए आते हैं। 

इसके साक्षी बनने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्य योगी आदित्यनाथ लगातार दो वर्षों से श्री कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर मथुरा वृंदावन आ रहे हैं। इसी क्रम में इस वर्ष भी श्री कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ मथुरा वृंदावन पहुंचे। सर्वप्रथम उत्तर प्रदेश के योगी आदित्यनाथ का हेलीकॉप्टर पवन हंस हैलीपैड पहुंचा। जहा पर मथुरा के सभी विधायकों और प्रशासनिक अधिकारियों ने योगी आदित्यनाथ का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। 

Also Read सावधान सोशल मीडिया पर विष फैला रही “डिजिटल विष कन्याओं” से रहे सतर्क

वही इसके पश्चात योगी आदित्यनाथ का काफिला मथुरा वृंदावन मार्ग स्थित जयपुर मंदिर के समीप बने नवनिर्मित अन्नपूर्णा भवन पहुंचा। जहां पर उन्होंने दूरदराज से ब्रज में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए भोजन की व्यवस्था हेतु अन्नपूर्णा भवन का शुभारंभ किया। आपको बता दें कि अन्नपूर्णा भवन में प्रतिदिन करीब पांच हजार श्रद्धालुओं को भोजन मुहैया कराया जाएगा। वही इसके पश्चात योगी आदित्यनाथ मथुरा वृंदावन मार्ग स्थित टूरिस्ट फैसिलिटी सेंटर पहुंचे। जहां पर उन्होंने ब्रज वासियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि यह बड़ा ही हर्ष का विषय है कि प्रतिदिन ठाकुर श्री कृष्ण की लीला स्थली पर हजारों श्रद्धालु अपने आराध्य के दर्शन करने के लिए आते हैं। 

श्री कृष्ण की इस क्रीड़ा स्थली आने मात्र से मन को बहुत ही शांति मिलती है। वहीं उन्होंने कहा कि वह मंगलम परिवार, विजय कौशल महाराज व उत्तर प्रदेश विकास तीर्थ विकास परिषद के आभारी है कि उनके द्वारा ब्रज में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए अन्नपूर्णा भवन का शुभारंभ किया गया है। वहीं उन्होंने कहा कि इस अन्नपूर्णा भवन के जरिए ब्रज में आने वाले श्रद्धालुओं को काफी राहत मिलेगी। 

उन्होंने कहा कि वह देखते हैं, कि कई श्रद्धालु जो बहुत धनी नहीं है। वह कान्हा की नगरी श्री धाम वृंदावन में स्वयं भोजन बनाकर अपने आराध्य के दर्शन करते हैं। लेकिन अब अन्नपूर्णा भवन के जरिए श्रद्धालुओं को परेशानियों से निजात मिल सकेगी। वहीं उन्होंने कहा कि यह हम सभी के लिए गौरव का विषय है कि हमारे देश में कई सारी संस्कृति है। ऐसी ही कई सारी संस्कृति श्री धाम वृंदावन में भी हैं। 

यहां पर बाँके बिहारी जी के प्रकट करता स्वामी श्री हरिदास जी की साधना भूमि भी है, तो सभी के पूज्य देवराह बाबा की समाधि स्थली भी है। उत्तर प्रदेश सरकार और उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद इन सभी धरोहरों को सहेजने में लगी हुई है। हमारा लक्ष्य इन सभी धरोहरों को आने वाली पीढ़ियों के लिए सहेज कर रखा जाए और ब्रज की संस्कृति को बचाया जा सके। वहीं उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश ब्रज तीर्थ विकास परिषद इसी कार्य में लगा हुआ है कि ब्रज की धरोहरों को सहेज कर रखा जा सके।

रिपोर्ट : राहुल ठाकुर

 

 

Recent News

Related Posts

Follow Us