सरकारी जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराने की मांग

सरकारी जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराने की मांग

सुपौल(बिहार):: त्रिवेणीगंज प्रखंड के मीरजावा पंचायत के लहरनियां चम्पावती चौक पर सरकारी आम जमीन के अतिक्रमण मुक्त कराने को लेकर ग्रामीणों ने अंचलाधिकारी को आवेदन दिया। जिसमें ग्रामीणों का आरोप है कि सरकारी जमीन है। जो एक ग्रामीण चौक के रूप में आम उपयोगी है। इसके चारों तरफ रैयती आवास, निवास वो व्यवसायिक जमीन मुख्यमार्ग से जुड़ा हुआ है। रैयत अपनी - अपनी निजी जमीन में घर बनाकर वो व्यवसायिक व्यवस्था पर विषयांकित सरकारी जमीन को अति महत्वपूर्ण बनाना चाहता है। 

लेकिन वहां की कुछ असामाजिक तत्व के लोग सरकारी जमीन को अतिक्रमण कर व्यक्तिगत स्वार्थ की सिद्धि में सरकारी जमीन को महत्वपूर्ण होने नहीं देना चाहता है और जमीन को बिना महत्वपूर्ण कार्य में उपयोग कर अतिक्रमण किए हुआ है। वो छोनी छपरी खटाल आदि से अतिक्रमण कर रखा है। सरकारी जमीन के चारों तरफ के रैयतों को अतिक्रमण से अपना अपना व्यवसायिक मकान बनाने वो सरकारी जमीन की महत्ता को बढ़ाने में परेशानी हो रही है। उक्त सरकारी जमीन चौराहा है उसका चारो राह बाधित है। जमीन डिट्रिक बोर्ड सड़क पक्की के किनारे है। भविष्य में उक्त जमीन से सरकार को राजस्व मिलने की पूरी संभावना है। सरकारी जमीन के अतिक्रमण को लेकर ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। ग्रामीणों ने शीघ्र अतिक्रमण मुक्त कराने की मांग की है।

सीओ को दिए गए आवेदन में रामचंद्र प्रसाद यादव, रामसुंदर प्रसाद यादव, रूपेश कुमार, अनिल कुमार, संतोष कुमार, सुभाष कुमार यादव, बीरेंद्र कुमार, चंदेश्वरी यादव, हलधर प्रसाद यादव, किशुन प्रसाद यादव आदि ग्रामीणों का हस्ताक्षर है।

Also Read पति ने पत्नी व उसके प्रधान मित्र को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

रिपोर्ट: मणिकांत कुमार मोनू

Recent News

Related Posts

Follow Us